पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

करनाल में 10.55 लाख की धोखाधड़ी:पुर्तगाल के सपने दिखाकर दुबई पहुंचाया और 5 महीने बंधक बनाकर रखा

करनालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक तस्वीर - Money Bhaskar
प्रतीकात्मक तस्वीर

हरियाणा के जिला करनाल के युवक से 10.55 लाख की धोखाधड़ी कर ली गई है। युवक को मौसेरे भाई ने पुर्तगाल के सपने दिखाकर दुबई में बंधक बना लिया। अब न तो पैसे वापस आए और न ही पुर्तगाल भेजा गया। पुलिस ने शिकायत के आधार पर दंपति व एजेंट के खिलाफ केस दर्ज किया है।

करनाल निवासी अंकुश ने बताया कि उसकी सगी मौसी का लड़का गांव बुटाना निवासी कुलदीप सिंह और उसकी पत्नी पूजा लोगों को विदेश भेजने का काम करते हैं। बड़सालू निवासी राम कुमार इनका एजेंट है। कुलदीप और पूजा ने मुझे भी कहा कि तू विदेश में सैटल हो जा, यहां का रहन सहन ही निराला है।

यहां पर काफी पैसा कमाकर अपनी भी और अपने परिवार के सदस्यों की भी जिन्दगी संवार लेगा। उन्होंने चिकनी चुपड़ी बातें करके जाल में फंसा लिया। वे पुर्तगाल में स्थायी वर्क परमिट दिलवाने को कह रहे थे। इसके लिए 11 लाख रुपए की मांग की। मैं भी उनकी बातों में आ गया और जाने के लिए राजी हो गया।

उन्होंने मेरा पासपोर्ट, शिक्षा के प्रमाण पत्रों आदि दस्तावेजो की व्हाटसऐप पर फोटो मंगवा ली। रामकुमार एजेंट के खाते में 85,000 रुपए डलवाने काे कहा। पैसे डलवाने के बाद एक अक्टूबर 2021 को अंकुश भारत से दुबई चला गया। कहा कि अभी 20-25 दिन में तेरा पुर्तगाल का वीजा लगवाकर दुबई से स्थायी वर्क परमिट पर पुर्तगाल भेज देंगे।

वहां पहुंचते ही उन्होंने पासपोर्ट व दूसरे दस्तावेज अपने पास रख लिए और उससे पैसों की डिमांड करने लगे। 5 अक्टूबर 2021 को 2 लाख, 8 अक्टूबर 2021 को 1.5 लाख बैंक खाता में डलवा दिए। 1.20 लाख उसने दुबई में नकद दिए। कुलदीप ने कहा कि पूजा कुछ दिनों बाद भारत जा रही है, तुम अपने पिता से बकाया पैसे उसे नकद दिलवा देना। 12 सितंबर 2021 को पूजा भारत करनाल में आ गई। उसके पिता ने जनवरी के शुरू में अपने किसी रिश्तेदार से 3 लाख लेकर उसके घर पर करनाल में दिए।

मारपीट कर बनाया बंधक

इसके बाद उन्होंने कहा कि तेरी पूरी राशि अभी तक हमारे पास नहीं आई है, इसलिए हम तुझे पुर्तगाल नहीं भेजते। जनवरी 2022 के अन्तिम सप्ताह में उसके पिता ने 2 लाख रुपए फिर से उसके घर पर करनाल में दिये। 10 लाख 55 हजार जाने के बाद पांच महीने के बाद भी उसे पुर्तगाल नहीं भेजा। जब पैसे वापस मांगे तो उसके साथ मारपीट की।

दुबई में अपने घर में बंदी बनाकर पासपोर्ट जबरदस्ती छीन लिया। वह बहुत ही मुश्किल से वहां से निकल कर भागा और अपना पासपोर्ट तैयार करवाया। इसके बाद फरवरी में अपने घर पहुंचा। परिजनों को आपबीती सुनाई। उनके घर पर गए तो आरोपियों ने ठोस जवाब नहीं दिया। ऐसे में उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए।

3 के खिलाफ केस दर्ज

एसआई कप्तान सिंह ने बताया कि पुलिस ने शिकायत के आधार पर गांव बुटाना तहसील निवासी कुलदीप सिंह, उसकी पत्नी पूजा व गांव बडसालू निवासी राम कुमार के खिलाफ केस दर्ज किया है। मामले की जांच करके कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।