पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हिसार में सैन्य अफसर से ठगे 90 हजार:खरीदे गए जूसर के 850 रुपए वापस लेने थे, फ्लिपकार्ट कर्मी बन एनिडेस्क ऐप के जरिए बनाया बेवकूफ

हिसार7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक तस्वीर - Money Bhaskar
प्रतीकात्मक तस्वीर

हरियाणा के हिसार आर्मी कैंट के अफसर से साइबर हैकर्स ने 90 हजार रुपए ठग लिए। सैन्य अफसर गोविंद कुमार को फ्लिपकार्ट से खरीद हुए जूसर के 850 रुपए वापस लेने थे। साइबर हैकर्स ने गोविंद कुमार को झांसे में लेकर फोन में एनिडेस्क ऐप डाउनलोड करवाकर खाते से 2 बार में 90 हजार रुपए निकाल लिए। सदर थाना पुलिस ने इस मामले में साइबर ठगी का केस दर्ज किया है।

गोविंद कुमार ने बताया कि उन्होंने फ्लिपकार्ट से मंगवाया जूसर वापस कर दिया था, लेकिन 850 रुपए की पेमेंट वापस खाते में नहीं आई थी। इस बारे में जानकारी के लिए उन्होंने गूगल से फ्लिपकार्ट कस्टमर केयर का नंबर सर्च करके फोन किया था। फोन पर उसे बताया गया कि कुछ समय बाद ही खाते में पैसे रिफंड कर दिए जांएगे और उसे झांसे में लेकर फोन में एक एेप डाउनलोड करवा दिया। बातचीत के दौरान ही उसके खाते से 2 बार में 40 हजार और 50 हजार रुपए दूसरे खाते में ट्रांसफर हो गए।

क्या है एनिडेस्क ऐप और कैसे होती है ठगी

एनिडेस्क ऐप रिमोट एप्लिकेशन है। इस ऐप के जरिए किसी दूसरे के मोबाइल, लैपटॉप या कम्प्यूटर का एक्सेस दूसरे फोन से किया जा सकता है। एप्लिकेशन डाउनलोड करने के बाद उस फोन या लैपटॉप में हो रही सभी गतिविधियां दूसरे सिस्टम में दिखाई देने लगती हैं। साइबर हैकर्स आजकल इसी ऐप के माध्यम से ठगी की वारदात को अंजाम दे रहे हैं। ऐप डाउनलोड करवाने के बाद कस्टमर के फोन का एक्सेस भी हैकर्स के पास चला जाता है और वह बैंक खाते की डिटेल, पासवर्ड आदि सब कुछ दूसरे सिस्टम के जरिए देख लेते हैं।

खबरें और भी हैं...