पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अमरूत टू प्राेजेक्ट:पानी निकासी प्राेजेक्ट में इंडस्ट्रियल एरिया, सातराेड व कैंट एरिया काे भूले अफसर, अब दोबारा रिपोर्ट बनेगी

हिसारएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
स्टाॅर्म वाटर की डीपीआर पर मंथन करते मेयर गाैतम सरदाना व पार्षद, पब्लिक हेल्थ व निगम अधिकारी। सी. डिप्टी मेयर अनिल सैनी, निगमाआयुक्त राहुल हुड्डा, अतिरिक्त निगमायुक्त प्रदीप हुड्डा, संयुक्त आयुक्त बेलिना तथा डीएमसी वीरेंद्र सहारण मौजूद रहे। - Money Bhaskar
स्टाॅर्म वाटर की डीपीआर पर मंथन करते मेयर गाैतम सरदाना व पार्षद, पब्लिक हेल्थ व निगम अधिकारी। सी. डिप्टी मेयर अनिल सैनी, निगमाआयुक्त राहुल हुड्डा, अतिरिक्त निगमायुक्त प्रदीप हुड्डा, संयुक्त आयुक्त बेलिना तथा डीएमसी वीरेंद्र सहारण मौजूद रहे।

सिटी में बारिश का पानी न भरे इसकाे लेकर अमरूत टू प्राेजेक्ट के तहत स्टाॅर्म वाटर लाइन डाली जानी है। इससे पहले पब्लकि हेल्थ के अधकिारी डिटेल प्राेजेक्ट रिपाेर्ट लेकर शहर की छाेटी सरकार से मिले। मेयर, पार्षदाें और नगर निगम के अधकिारियाें के साथ मंगलवार काे निगम के मीटिंग हाॅल में करीब दाे घंटे तक मंथन हुआ।

पब्लकि हेल्थ अधकिारियाें ने करीब 55 किलाेमीटर एरिया में 14 इंच से लेकर 48 इंच की लाइन डालने काे लेकर डिटेल सांझा की। अधकिारी शहर के उस एरिया काे भूल गए, जहां से सबसे अधकि टैक्स सरकार काे जाता है। स्टाॅर्म वाटर लाइन डालने के इस प्राेजेक्ट मेंओल्ड इंडस्ट्रीयल एरिया काे ही छाेड़ दिया। सातराेड व कैंट एरिया सहित कई काॅलाेनियाें काे छाेड़ दिया, जहां बारिश में हालात बद से बदतर हाे जाती है। इस पर शहर की सरकार ने इस डीपीआर काे दाेबारा पेश करने की बात कही और कई काॅलाेनियाें व एरिया का नाम इस प्राेजेक्ट में और शामिल किए जाने की बात कही।

इस मौके पर डॉ. महेन्द जुनेजा, उमेद खन्ना, मनोहर लाला वर्मा, जगमोहन मितल, पिंकी नरेंद्र शर्मा, भूप सिंह रोहिला, प्रीतम सैनी, अनिल जैन, जय प्रकाश, मनोनीत पार्षद सतीश सुरलिया, कैप्टन नरेंद्र शर्मा, पंकज दीवान आदि मौजूद थे।

मेयर व पार्षदों ने कहा-प्रभावित एरिया शामिल हो, अफसर बाेले - करीब 88 कराेड़ रफ काॅस्ट

​​​​​​​नगर निगम सभागार में मीटिंग में पार्षदों ने वार्ड अनुसार ये दिए सुझाव

. श्मशान घाट रोड वाली सीवर लाइन को बस स्टैंड तक बढ़ाया जाएगा।

. जिन्दल पार्क के पीछे वाली सड़क व उसके साथ गलियों में नई सीवर लाइन डालेगी और बरसाती पानी नकिासी होगी।

. महावीर कॉलोनी सीवर लाइन को आगे बढ़ाया जाएगा और शिव चौक से संत नगर, विजय नगर, शांति नगर, पुरानी सब्जी मंडी से होते हुए बरवाला बाइपास तक सीवर लाइन डाली जाएगी और पम्पिंग सिस्टम से पानी नकिाला जाएगा।

. मिलगेट एमजी क्लब से कैंची चौक तक नई लाइन बरसाती लाइन डाली जाएगी। साथ की सभी कॉलोनी व मुख्य गली जुड़ेगी।

. इंडस्ट्रियल एरिया में बरसाती पानी नकिासी को व्यवस्था की जाए।

. मॉडल टाउन एक्सटेंशन में बरसाती नाला डाला जाए।

. सातरोड और कैंट एरिया बरसाती पानी नकिासी की व्यवस्था की जाए।

जानिए... अभी 55 किमी में लाइन की बात हो रही.

पब्लकि हेल्थ अधकिारियाें ने करीब 55 किलाेमीटर लंबी स्टाॅर्म वाटर लाइनें डाले जाने की बात कही। जिसमेंओल्ड सब्जीमंडी एरिया, शांति नगर एरिया, आजाद नगर एरिया, कैमरी राेड, मिलगेट, मिर्जापुर राेड, रायपुर राेड, कप्तान स्कूल, सूर्य नगर एरिया, सूरजमल एनक्लेव, माॅडल टाउन एरिया में लाइन डाला जाना जरूरी बताया। पब्लकि हेल्थ के अधकिारियाें ने बताया कि करीब 35 किलाेमीटर नए शहर में तथा पुराने शहर में 20 किलाेमीटर की स्टाॅर्म वाटर लाइन डाली जाएगी। कैमरी राेड व आजाद नगर एरिया में 40 कराेड़ की लागत आएगी। बाकी एरिया में भी कराेड़ाें रुपये खर्च हाेंगे।

कई कालोनियों में अमरुत वन प्रोजेक्ट अधर में

शहर में सीवर लाइन व पानी की लाइन डालने का काम शुरू किया गया था। करोड़ों रुपए के इस प्रोजेक्ट को पूरा ही नहीं किया गया। सीवरेज लाइन डालने वाली एजेंसी ने काम लगभग पूरा कर दिया। पानी लाइन डालने वाली एजेंसी ने काम अधूरा छोड़ दिया। निगम ने इसका टेंडर कैंसिल करने को लेकर मुख्यालय को लिखा हुआ है। एजेंसी पर करोड़ों रुपए का जुर्माना लगाया है। अमरुत प्रोजेक्ट में सीवरेज व पानी की लाइन डालने का काम शहर की 20 से ज्यादा कॉलोनियों व पूरे सातरोड में यह काम किया जाना था अधूरा काम होने के कारण गलियां पक्की नहीं हो पाई।

खबरें और भी हैं...