पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

फ्लैट के नाम पर 5.20 लाख की धोखाधड़ी:अंबाला की घटना; ठग ने खुद को बताया CISF जवान; 3 खाते किए खाली

अंबाला3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हरियाणा के अंबाला जिले में ऑनलाइन फ्रॉड का सिलसिला थम नहीं रहा है। शातिर ठग ने खुद को CISF जवान बताकर एक व्यक्ति को अपनी बातों में ऐसा फंसाया कि उसकी पत्नी और बेटे का भी खाता खाली कर दिया। शातिर ठग ने फ्लैट किराए पर लेने के नाम पर 21 ट्रांजेक्शन करके 5.20 लाख रुपए की चपत लगाई। सेक्टर-9 निवासी अजमेर सिंह ने पुलिस अधीक्षक को शिकायत सौंपकर कार्रवाई की गुहार लगाई है। पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है।

शातिर ठग ने खुद को बताया था CISF जवान

शिकायतकर्ता अजमेर सिंह ने बताया कि उसने रेवाड़ी स्थित अपना फ्लैट किराए पर देने के लिए एक वेबसाइट पर विज्ञापन डाला था। उसके पास व्हाट्सएप पर अनिकेत विजय नामक ठग ने मैसेज किया। खुद को उसने CISF जवान बताया और कहा कि उसकी ड्यूटी अहमदाबाद एयरपोर्ट पर है, लेकिन पत्नी के लिए फ्लैट किराए पर लेने का इच्छुक है। उसने पहले फ्लैट की फोटो मांगी, फिर अपने आधार कार्ड और पैन कार्ड की फोटो भेज दी।

21 बार ट्रांजेक्शन करके निकाले 5.20 लाख

शिकायतकर्ता ने बताया कि ठग ने किराया डालने के लिए पूछा तो उसने अपनी पत्नी का खाता नंबर दिया, लेकिन ठग ने कहा कि इस खाते में UPI ट्रांजेक्शन नहीं हो रही। ठग ने कहा कि उसका मर्चेंट अकाउंट है। पहले इसमें से कुछ पैसे कटेंगे, फिर वापस पेमेंट आ जाएगी। ठग ने 5 रुपए डेबिट करके 5-5 रुपए 2 बार में रिसीव करके विश्वास दिलाया और कहा कि जितने पैसे कटेंगे, वे 20 हजार रुपए में जमा होंगे।

जैसे ही उसने पहली ट्रांजेक्शन की तो उसके खाते से 14 ट्रांजेक्शन में 3 लाख 99 हजार 920 रुपए कट गए। इसी बीच बैंक ने उसका खाता बंद कर दिया। इसके बाद ठग ने फिर अपनी बातों में फंसाया और उसके बेटे के पेटीएम से 6 ट्रांजेक्शन में 79 हजार 990 रुपए काट लिए। इसके बाद कहा कि अगर पैसा वापस लेने हैं तो 39 हजार 995 रुपए की ट्रांजेक्शन करनी होगी। उसने अपनी पत्नी के खाते से भी 39 हजार 995 रुपए की पेमेंट कर दी।

पैसे वापस न आने पर धोखाधड़ी का अहसास हुआ। पुलिस ने शिकायत के आधार पर केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।