पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Haryana
  • Ambala
  • Congress's 'Satyagraha' In Ambala 3 hour Dharna In Protest Against Agneepath Plan; Said The Government Is Imposing Black Laws

अंबाला में सरकार के खिलाफ कांग्रेस का मोर्चा:अग्निपथ योजना के विरोध में 3 घंटे दिया धरना; बोले- सरकार थोप रही काला कानून

अंबाला5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एसडीएम कार्यालय के बाहर सत्याग्रह करते कांग्रेसी।

हरियाणा के अंबाला जिले में अग्निपथ योजना के विरोध में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने शांतिपूर्ण सत्याग्रह शुरू कर दिया है।

जिला कांग्रेस कमेटी के बैनर तले सभी कांग्रेसी नेता व कार्यकर्ता SDM ऑफिस अंबाला कैंट और डीसी ऑफिस अंबाला सिटी पहुंचे। यहां उन्होंने सुबह 10 से दोपहर 1 बजे तक सत्याग्रह किया। इतना ही नहीं, इस दौरान कांग्रेसियों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की तथा अग्निपथ योजना वापस लेने की मांग उठाई।

अग्निपथ योजना लाकर युवाओं को गुमराह कर रही सरकार

कांग्रेस कमेटी के प्रदेश कार्यकारी प्रधान एवं पूर्व विधायक राम किशन गुर्जर का कहना है कि भाजपा सरकार पहले भी जीएसटी और नोटबंदी जैसी काले कानून लेकर आई है। अब फिर गुमराह करने के लिए अग्निपथ योजना लेकर आई, जिसका देशभर में विराेध हो रहा है। आज का युवा सड़कों पर हैं। कहा कि जैसे तीन कृषि कानून वापस लिया गया है सरकार इस कानून को भी वापस ले।

अग्निपथ योजना का विरोध जताते कांग्रेसी।
अग्निपथ योजना का विरोध जताते कांग्रेसी।

सरकार जनता पर थोप रही काले कानून

पूर्व पार्षद एवं जिला कांग्रेस कमेटी अंबाला के को-ऑर्डिनेटर हीरालाल यादव ने कहा कि कांग्रेस अग्निपथ योजना को लागू करने के तुगलकी फरमान को वापस लेने की मांग कर रही है। सरकार देश के युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। अग्निपथ योजना देश की सुरक्षा के लिए घातक साबित होगी। सरकार बिना विचार-विमर्श किए बिना नए-नए काले कानून जनता के ऊपर थोप रही है।

डीसी ऑफिस पर सत्याग्रह करते कांग्रेस नेता व कार्यकर्ता।
डीसी ऑफिस पर सत्याग्रह करते कांग्रेस नेता व कार्यकर्ता।

युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही सरकार

कांग्रेसी कार्यकर्ता अशोक जैन ने कहा कि सरकार ने अग्निपथ योजना लागू करके युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया है। कांग्रेस ने आज दोपहर 1 बजे तक हर विधानसभा क्षेत्र में सत्याग्रह करने का निर्णय लिया है। वे आज यहां किसी को ज्ञापन नहीं सौंपेंगे। बिना विचार-विमर्श के थोपी गई अग्निपथ योजना के खिलाफ कांग्रेस अपनी आवाज बुलंद करती रहेगी।