पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Gujarat
  • Surat
  • Suffering From Cold, Cough And Fever, They Are Not Getting Cured Even In A Week, In The Third Wave They Used To Get Cured In 3 Days.

6 दिन से लगातार मिल रहे कोरोना संक्रमित:सर्दी-खांसी व बुखार से पीड़ित, ये हफ्तेभर में भी ठीक नहीं हो रहे, तीसरी लहर में 3 दिन में ठीक हो जाते थे

सूरतएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मनपा के स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि जीनोम सीक्वेंसिंग के साथ कोरोना टेस्ट की संख्या बढ़ा रहे हैं। - Money Bhaskar
मनपा के स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि जीनोम सीक्वेंसिंग के साथ कोरोना टेस्ट की संख्या बढ़ा रहे हैं।

पिछले 6 दिनों से लगातार कोरोना के मरीज मिल रहे हैं। यही नहीं संक्रमित मरीज आसानी से ठीक नहीं हो पा रहे हैं। तीसरी लहर में संक्रमित मरीज महज 3 से 4 दिन में ठीक हो जाते थे, लेकिन अब हफ्तेभर से ज्यादा लग रहा है। शहर में इस समय 3 एक्टिव मरीज में से एक अस्पताल में भर्ती है। 13 मई से ही उसे बुखार आ रहा है। 14 मई को पॉजिटिव रिपोर्ट आई थी। एक निजी अस्पताल में 19 साल की छात्रा का इलाज चल रहा है। हालांकि अभी भी उसे पूरी तरह से आराम नहीं मिला है।

वह अस्पताल में भर्ती है। यही कारण है कि पिछले कई दिनों से कोई मरीज डिस्चार्ज नहीं हुआ है। संक्रमित मरीजों में सर्दी-खांसी व बुखार के लक्षण हैं। स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि संक्रमित मिल रहे मरीजों की रिपोर्ट जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजी जा रही है। रिपोर्ट आने के बाद ही कहा जा सकता है कि कोरोना का कौन सा वेरिएंट एक्टिव है।

6 दिन में तीन कोरोना पॉजिटिव शहर और 3 ग्रामीण में मिल चुके

  • तारीख - पाॅजिटिव
  • 11 मई - 01
  • 12 मई - 01
  • 13 मई - 01
  • 14 मई - 01
  • 15 मई - 01
  • 16 मई - 01

सिविल में रोज 100 टेस्ट हो रहे | सिविल अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि सर्दी-खांसी, जुकाम व बुखार के मरीज मेडिसिन विभाग में आते हैं, इसलिए मेडिसिन ओपीडी के बाहर कोविड-19 टेस्ट के लिए काउंटर लगाया गया है। संदिग्ध मरीजों की जांच हो रही। रोज 100 से अधिक जांचें की जा रही हैं।

सोमवार को कामरेज में मिला एक संक्रमित मरीज
डाॅक्टरों का कहना है कि वैक्सीन ले चुके कुछ मरीजों में कुछ समय बाद इसका असर कम हो जाता है। यदि ऐसे लोग संक्रमित होते हैं तो उनमें लक्षण ज्यादा दिन तक रह सकते हैं। हालांकि जरूरी नहीं है कि सभी मरीजों में ऐसा हो। जानकारी के अनुसार सोमवार को कामरेज तहसील में कोरोना का एक संक्रमित मरीज मिला। अब तक ग्रामीण में कुल 42826 मामले आ चुके हैं। इनमें 42264 ठीक हो चुके हैं।

मनपा अब रोज 500 कोरोना टेस्ट कर रही
मनपा के स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि जीनोम सीक्वेंसिंग के साथ कोरोना टेस्ट की संख्या भी बढ़ा रहे हैं। पहले रोज 200 से 300 जांच की जाती थी, अब 500 से अधिक हो रही है। अस्पताल में सर्दी-खांसी व बुखार के मरीजों की जांच अनिवार्य की गई है। हालांकि डॉक्टर मरीज की स्थिति देखकर निर्णय ले सकते हैं कि किसकी जांच करानी है और किसकी नहीं। डॉक्टर अपने हिसाब से जांच करवा सकते हैं। ‌

खबरें और भी हैं...