पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Gujarat
  • Surat
  • Payments Of About Two And A Half Thousand Crores Of Textile Traders Stopped, Many Are Not Even Getting The Payment Of 6 Months Ago.

कपड़ा कारोबार:कपड़ा व्यापारियों के करीब ढाई हजार करोड़ के पेमेंट रुके, कइयों का 6 माह पहले का पेमेंट भी नहीं मिल रहा

सूरतएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गुड्स रिटर्न के साथ अब कपड़ा व्यापारियों काे पुराने पेमेंट की समस्या का सामना भी करना पड़ रहा है। - Money Bhaskar
गुड्स रिटर्न के साथ अब कपड़ा व्यापारियों काे पुराने पेमेंट की समस्या का सामना भी करना पड़ रहा है।

सूरत कपड़ा व्यापार के लिए पुराने पेमेंट की समस्या नया नहीं है। गुड्स रिटर्न के साथ अब कपड़ा व्यापारियों काे पुराने पेमेंट की समस्या का सामना भी करना पड़ रहा है। इनमें से कई व्यापारियों काे दीपावली के बाद का भी पेमेंट बाहर की मंडियों में फंसा हुआ है। वहीं कुछ कपड़ा व्यापारियों का 6 माह पुराना पेमेंट भी अभी तक क्लियर नहीं हुआ है। एक अनुमान के अनुसार सूरत के कपड़ा व्यापारियों का बाहर की मंडियों में 2500 से 3000 कराेड़ रुपए का पेमेंट अटका हुआ है।

सूरत से अप्रैल माह में करीब 7 हजार 500 करोड़ का कारोबार हुआ है। प्रतिदिन 400 से 500 ट्रक कपड़ा सूरत से अन्य राज्यों में सप्लाई किया जाता था। लेकिन बताया जा रहा है कि सेलिंग स्टोर पर बिक्री उम्मीद से कम रही। इसलिए बाहर की मंडियों के व्यापारी कारोबार अच्छा नहीं हाेने की शिकायत कर रहे हैं और पेमेंट में डिले कर रहे हैं। हालांकि कुछ व्यापारी ऐसे हैं जो 15 दिन से एक माह के अंदर पेमेंट क्लियर कर देते हैं। लेकिन अभी कई व्यापारियों का पेमेंट रुका हुआ है। पेमेंट काे लेकर सूरत के ट्रेडर्स चिंतित हैं।

अब पेमेंट के लिए फोन कर रहे
रक्षाबंधन तक कपड़ा कारोबार एवरेज रहेगा। रक्षाबंधन के बाद व्यापारी दीपावली की तैयारी करेंगे। साउथ की मंडियों से जुड़े व्यापारी आड़ी की सीजन की तैयारी करेंगे। हालांकि पिछले साल की तुलना में इस साल व्यापार काफी अच्छा है। - मनाेज अग्रवाल, अध्यक्ष, फाेस्टा

व्यापारी दीपावली की तैयारी करेंगे

बाहर की मंडियों में कपड़ा खूब सप्लाई हुआ है। लेकिन अब पेमेंट मिलने में परेशानी हो रही है। पेमेंट के लिए व्यापारियों को फोन करते हैं तो सेल अच्छा नहीं रहने की बात करने लगते हैं। कुछ व्यापारियों का दीपावली बाद का भी पेमेंट पेंडिंग है। सूरत के कपड़ा व्यापारियों का कम से कम 2500 से 3000 करोड़ का पेमेंट रुका हुआ है। - दिनेश कटारिया, कपड़ा व्यापारी

खबरें और भी हैं...