पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60821.62-0.17 %
  • NIFTY18114.9-0.35 %
  • GOLD(MCX 10 GM)476040.47 %
  • SILVER(MCX 1 KG)650340.55 %

दिव्यांग की उपलब्धि:कोदवागोड़ान की आकांक्षा बनीं डिप्टी कलेक्टर, परीक्षा में 15वां रैंक हासिल किया, सीजीपीएससी ने परिणाम के बाद पदवार जारी की सूची

पंडरियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
परिवार के सदस्यों ने आकांक्षा पांडेय को बधाई दी। - Money Bhaskar
परिवार के सदस्यों ने आकांक्षा पांडेय को बधाई दी।

ब्लॉक के वनांचल ग्राम कोदवागोड़ान की आकांक्षा पांडेय अब डिप्टी कलेक्टर बन गई है। दरअसल 17 तारीख को सीजीपीएससी ने रैंक वार सूची जारी किया। इसके बाद 18 तारीख को पदवार सूची जारी है। इसमें आकांक्षा पांडेय को डिप्टी कलेक्टर का पद मिला है। आकांक्षा श्रवण बाधित दिव्यांग है, उन्हें कम सुनाई देता है। इस कारण पढ़ाई में काफी दिक्कत हुई, इसके बाद भी संघर्ष कर इस मुकाम को प्राप्त किया है।

आकांक्षा ने बताया कि कम सुनाई देने के कारण पढ़ाई के दौरान उन्हें क्लास में परेशानी हुई थी, पढ़ाई के लिए संघर्ष भी करना पड़ा। लेकिन वे कभी हार नहीं मानी। कभी भी उसे इसकी कमी महसूस नहीं हुई। उन्होंने इस कमी के बाद भी इसे चुनौती के रूप में स्वीकार करते निरंतर तैयारी में जुटी रही। आकांक्षा ने सभी लोगों से अपील करते हुए कहा कि शारीरिक या सुविधाओं की कमी की परवाह न करते हुए हमेशा लक्ष्य पर ध्यान केंद्रित करने से सफलता निश्चित मिलती है।

गांव में सुविधाओं की कमी
कोदवागोड़ान ग्राम वन क्षेत्र है, जहां सुविधाओं की कमी है। आज भी इस गांव तक पहुंचने के लिए पक्की सड़क नहीं है। दो तरफ से गांव में पहुंचा जा सकता है,लेकिन दोनों ही तरफ से करीब एक किलोमीटर की सड़क खराब व कीचड़ युक्त है। बिजली के लिए भी गांव के लोग परेशान रहते हैं। हाल ही में कोदवागोड़ान में सब स्टेशन स्वीकृत हुआ है। कुछ समय पहले गांव में सप्ताह भर बिजली नहीं रहती थी। आकांक्षा ने बताया कि उन्होंने लालटेन के सहारे हायर सेकंडरी तक कि शिक्षा प्राप्त की है।

युवाओं को भी मिला पद
कबीरधाम जिला से लगातार सीजीपीएससी के राज्य सेवा परीक्षा में जिले के युवा बाजी मार रहे है। सीजीपीएससी ने पदवार सूची में पिपरिया के जितेन्द्र कुंभकार को डीएसपी का पद मिला है। बाघामुड़ा के पीयूष तिवारी को भी डीएसपी पद मिला है। इसके अलावा अन्य युवाओं को सीईओ, नायब तहसीलदार समेत अन्य पद मिले है। रैंक कम होने के कारण छोटे पद से संतुष्ट होना पड़ा। पूर्व में कबीरधाम जिले के प्रेमप्रकाश पांडेय, दशरथ राजपूत, गौतम पाटिल समेत अन्य का चयन डिप्टी कलेक्टर पद के लिए हुआ है।

खबरें और भी हैं...