पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चोरी की घटना:केंद्रीय विद्यालय में परीक्षा दे रहे 12 छात्रों की मोपेड की डिक्की से मोबाइल ले उड़े चोर

रायपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

डब्लूआरएस स्थित केंद्रीय विद्यालय में शनिवार को परीक्षा दे रहे 12वीं के दर्जनभर छात्रों की दुपहिया की डिक्की खोलकर मोबाइल और पर्स चुराकर ले गए। छात्रों ने स्कूल के सामने अपनी मोपेड और बाइक पार्क की थी। छात्र जब परीक्षा देकर बाहर निकले तब उन्हें चोरी का पता चला।

एक के बाद एक जब 12 छात्रों की गाड़ियों की डिक्की से पर्स और मोबाइल गायब मिले तो वहां खलबली मच गई। छात्रों ने पहले स्कूल प्रबंधन से शिकायत की उसके बाद पुलिस थाने पहुंचे। पुलिस को सीरियल चोरी उठाईगिरी करने वाले बाहरी गिरोह पर शक है। चोरी में दो या दो से ज्यादा चोर होने का अनुमान है।

पुलिस अफसरों ने बताया कि केंद्रीय विद्यालय में 10-12वीं की बोर्ड परीक्षा चल रही है। शनिवार सुबह 10 बजे से 12वीं की परीक्षा थी। स्कूल के सामने छात्रों के लिए पार्किंग की व्यवस्था थी। स्कूल में मोबाइल व पर्स लेने जाने की अनुमति नहीं थी, इसलिए छात्रों ने अपने गाड़ी की डिक्की में मोबाइल और पर्स रखा और परीक्षा देने चले गए।

तीन घंटे बाद परीक्षा हॉल से बाहर आए तब उन्होंने जैसे ही डिक्की चेक की उसमें मोबाइल व पर्स गायब मिला। पहले दो छात्रों की मोपेड से मोबाइल गायब होने का पता चला। उसके बाद जैसे जैसे छात्र बाहर आते गए, पीड़ितों की संख्या बढ़ती गई। देखते ही देखते एक दर्जन से ज्यादा छात्र-छात्राएं इकट्ठा हो गए।

छात्र सबसे पहले स्कूल प्रबंधन के पास पहुंचे। छात्रों ने प्रबंधन से कहा कि उन्हें पार्किंग में सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम करना था। छात्र परीक्षा देने आ रहे हैं तो उनके सामान की सुरक्षा की जिम्मेदारी स्कूल की प्रबंधन की होनी चाहिए। प्रबंधन की ओर से स्पष्ट कर दिया गया कि उन्होंने मोबाइल लेकर आने से मना किया था, क्योंकि परीक्षा में मोबाइल रखने की अनुमति नहीं दी जाती है।

एक का भी नहीं तोड़ा लॉक
पुलिस के अनुसार उठाईगिरी करने वाले आरोपियों ने किसी भी गाड़ी का लॉक नहीं तोड़ा है। जितने गाड़ियों में चोरी हुई सभी मोपेड है। चोरों ने मोपेड की डिक्की को विशेष तकनीक से उठाया और उनके साथी ने हाथ डालकर भीतर से सामान निकाल लिया है। पुलिस का अनुमान है कि चोरी में शामिल बदमाश पतले-दुबले हो सकते हैं, जिनका हाथ आसानी से डिक्की में सामान तक पहुंच गया। पुलिस को चोरों का कोई क्लू नहीं मिल पाया है। आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला जा रहा है।

पुलिस को शक है कि इसमें बाहरी का गिरोह हो सकता है। हालांकि आसपास के आधा दर्जन बदमाशों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। इनमें ज्यादातर चोरी के आरोप में पहले भी जेल जा चुके है। उनसे पूछताछ की जा रही है।

खबरें और भी हैं...