पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59005.270.88 %
  • NIFTY175620.95 %
  • GOLD(MCX 10 GM)463320.4 %
  • SILVER(MCX 1 KG)602350.53 %

साथ काम करेंगे मनरेगा और बिहान के अफसर:4500 मनरेगा मजदूरों का उन्नति प्रोजेक्ट से कौशल बढ़ाएगी सरकार

रायपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रदेश में चालू वित्तीय वर्ष 2021-22 में 4500 मनरेगा श्रमिकों के कौशल उन्नयन का लक्ष्य रखा गया है। केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय की ‘उन्नति’ परियोजना के तहत अधिकतम 45 वर्ष तक की उम्र के मनरेगा श्रमिकों का कौशल बढ़ाया जाएगा। ताकि वे अपनी आय का स्थाई साधन प्राप्त कर सकें।

राज्य मनरेगा आयुक्त मोहम्मद कैसर अब्दुल हक ने सभी जिलों के कलेक्टरों को पत्र जारी किया है। इसके लिए मनरेगा के अंतर्गत कार्यरत सहायक परियोजना अधिकारियों (एपीओ) और राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन (बिहान) के जिला नोडल अधिकारियों को परस्पर समन्वय से काम करने के लिए निर्देशित करने कहा है। राज्य मनरेगा कार्यालय ने वर्ष 2018-19 में मनरेगा के अंतर्गत 100 दिनों का कार्य पूर्ण कर चुके परिवारों के श्रमिकों के कौशल उन्नयन के लिए दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान एवं कृषि विज्ञान केंद्र के माध्यम से प्रशिक्षण शुरू करने के निर्देश दिए हैं।

मनरेगा आयुक्त अब्दुल हक ने सभी जिलों के मनरेगा के एपीओ व बिहान के जिला नोडल अधिकारी के परस्पर समन्वय से पूर्ण करवाने कहा है। परिपत्र में कलेक्टरों को बताया गया है कि केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा ‘उन्नति’ परियोजना की प्रमुखता से समीक्षा की जा रही है। मंत्रालय द्वारा परियोजना के तहत प्रशिक्षण के लिए चयनित हितग्राहियों को वेज-स्टाइपेंड के भुगतान के भी निर्देश दिए गए हैं।

खबरें और भी हैं...