पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61765.590.75 %
  • NIFTY18477.050.76 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47189-1.48 %
  • SILVER(MCX 1 KG)631020.23 %

छत्तीसगढ़ में संक्रमण दर 0.3 फीसदी हुई:जुलाई में एक भी मौत नहीं होने का दूसरी बार दावा; पहले भी गलत साबित हो चुका है यह दावा; प्रदेश में 130 नए संक्रमित मिले

रायपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रशासन एक साथ 2 से अधिक मरीज मिलने पर घरों को कंटेनमेंट जोन बना रहा है। - Money Bhaskar
प्रशासन एक साथ 2 से अधिक मरीज मिलने पर घरों को कंटेनमेंट जोन बना रहा है।

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण में कमी दिखने लगी है। गुरुवार को प्रदेश में 40 हजार 501 नमूनों की जांच हुई। इस दौरान केवल 130 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। इस मान से संक्रमण दर घटकर 0.3 प्रतिशत ही रह गई है। किसी मरीज की जान भी नहीं गई है। जुलाई में यह दूसरी बार है जब स्वास्थ्य विभाग ने एक भी मौत नहीं होने का दावा किया है। इससे पहले 12 जुलाई को एक भी मौत नहीं हाेने का दावा किया गया था। हालांकि, उसी दिन बिलासपुर जिले के मेडिकल बुलेटिन में एक मरीज की मौत का जिक्र था।

स्वास्थ्य विभाग के रोजाना जारी होने वाले बुलेटिन के मुताबिक इससे पहले 14 फरवरी 2021 को प्रदेश में एक भी मौत नहीं हुई थी। बाद में डेटा अपडेट हुए तो पता चला कि 14 फरवरी को भी एक मरीज की मौत हुई थी। स्वास्थ्य विभाग ने फरवरी के पहले तारीख 22 जुलाई 2020 को शून्य मौत बताई थी, लेकिन उस दिन तक मृतकों का आंकड़ा 29 था। छत्तीसगढ़ में संक्रमण का पहला मामला 18 मार्च 2020 को सामने आया था। 29 जून को छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण से पहली मौत दर्ज हुई। तब से अभी तक प्रदेश के 13520 लोगों की मौत संक्रमण से हो चुकी है।

दुर्ग संभाग के चार जिलों में कोई मरीज नहीं मिला
कभी संक्रमण से बुरी तरह प्रभावित दुर्ग संभाग के लिए राहत बढ़ रही है। दुर्ग संभाग के पांच जिलों में से चार, राजनांदगांव, बालोद, बेमेतरा और कबीरधाम में गुरुवार को संक्रमण का एक भी नया मामला नहीं मिला। केवल दुर्ग जिले में 7 लोग पॉजिटिव मिले हैं। दुर्ग में अभी सक्रिय मामलों की संख्या 97 है। वहीं बालोद में 41, राजनांदगांव में 30, कबीरधाम में 20 और बेमेतरा में केवल 9 मरीजों का इलाज हो रहा है।

रायपुर अभी शीर्ष पांच संक्रमित जिलों में
गुरुवार की रिपोर्ट के मुताबिक रायपुर जिला अभी भी प्रदेश के सबसे संक्रमित पांच जिलों की सूची में शुमार है। यहां गुरुवार को 5 नए मरीज मिले हैं। जिले में सक्रिय मामलों की संख्या 124 है। इस सूची में शीर्ष पर बस्तर है जहां, अभी 183 मरीज है। गुरुवार को वहां 11 नए मरीज मिले। जांजगीर-चांपा में 14 मरीजों को मिलाकर सक्रिय मामलों की संख्या 161 हो गई है। कांकेर में 133 मरीज हैं। वहां कल 8 नए मरीज मिले। बीजापुर में कल मिले 5 नए मरीजों को मिलाकर सक्रिय मामलों की संख्या 114 हो चुकी है।

अब केवल 2086 मरीज
प्रदेश में अभी कुल सक्रिय मरीजों की संख्या 2 हजार 86 रह गई है। जुलाई के पहले दिन यहां 5 हजार 787 मरीज थे। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक प्रदेश में अब तक 10 लाख 1 हजार 781 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें से 9 लाख 86 हजार 175 ठीक हो गए। 270 व्यक्ति तो कल ही डिस्चार्ज हुए। इन 270 लोगों में से केवल 69 को अस्पतालों में भर्ती करने की जरूरत पड़ी थी।

कंटेनमेंट जोन बढ़ने लगे
इस बीच प्रशासन ने सख्ती बढ़ा दी है। रायपुर में प्रशासन ने महावीर नगर में एक नया कंटेनमेंट जोन बना दिया है। रायपुर में कल जिन पांच लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई वे इसी इलाके के थे। इसके पहले डीडी नगर सेक्टर -1 और कुकुरबेड़ा में कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया था। दुर्ग जिले में भी रिसाली के आशीष नगर पश्चिम और भिलाई की बम्लेश्वरी कॉलोनी में कंटेनमेंट जोन बनाया गया है।

खबरें और भी हैं...