पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60821.62-0.17 %
  • NIFTY18114.9-0.35 %
  • GOLD(MCX 10 GM)476040.47 %
  • SILVER(MCX 1 KG)650340.55 %

पादरी को पीटने वालों से मिलने पहुंचे BJP नेता:प्रदेश अध्यक्ष साय बोले- वो कोई चोर नहीं, जनहित के लिए जेल में बंद हैं; पूर्व मंत्री मूणत ने कहा- उनका उत्साहवर्धन करने आए हैं

रायपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
BJP प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा कि कार्यकर्ताओं के खिलाफ झूठा केस बनाया गया है। - Money Bhaskar
BJP प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा कि कार्यकर्ताओं के खिलाफ झूठा केस बनाया गया है।

पादरी को पीटने वाले रायपुर सेंट्रल जेल में बंद बीजेपी कार्यकर्ताओं से प्रदेश अध्यक्ष विष्णु देव साय, पूर्व मंत्री राजेश मूणत और जिलाध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी पवन साय मिलने पहुंचे। यहां उन्होंने कार्यकर्ताओं को दिलासा दिया कि पार्टी उनके साथ खड़ी है। 2 सप्ताह पहले रायपुर के पुरानी बस्ती थाने में धर्मांतरण को लेकर हुए विवाद के बीच संजय सिंह और मनीष साहू नाम के इन युवकों ने थाना प्रभारी के कक्ष में एक पादरी को पीट दिया था। इसी केस की वजह से ये अब जेल में बंद हैं। इस मामले में 5 और युवकों के खिलाफ केस दर्ज किया गया था।

जेल में दाखिल होते नेतागण।
जेल में दाखिल होते नेतागण।

मुलाकात के बाद विष्णुदेव साय ने कहा कि कार्यकर्ताओं के खिलाफ झूठा केस बनाया गया है। पहले इन पर जमानती धाराएं लगाई गई थीं। फिर दबाव में आकर गैर जमानती धाराएं जोड़ दी गईं। थाने के प्रभारी और रायपुर शहर के SP को हटा दिया गया। सरकार धर्मांतरण को संरक्षण दे रही है। कार्यकर्ताओं के हालचाल के बारे में बताते हुए साय ने कहा कि उन्हें अंदर कोई तकलीफ नहीं है। वह कोई चोरी करके जेल थोड़े ही गए हैं, जनहित के मुद्दे की वजह से जेल गए हैं। इस मुलाकात की कुछ तस्वीरों को सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए मूणत ने लिखा कि वे जेल में बंद युवकों का उत्साहवर्धन करने गए थे।

21 सितंबर को भाजपाई देंगे गिरफ्तारी
जेल कैंपस में ही मीडिया को जानकारी देते हुए श्रीचंद सुंदरानी ने कहा कि हमने हमारे साथियों से मुलाकात की है। वो उनके खिलाफ लड़ रहे हैं, जो धर्मांतरण करवा रहे हैं। देश के संविधान का भी सम्मान नहीं कर रहे। शहर जिला स्तर के नेताओं की बैठक कर रहे हैं। इसके बाद 21 सितंबर को रायपुर के सभी थानों में भाजपा के नेता पहुंचेंगे। हम इन साथियों की रिहाई और धर्मांतरण करवाने वालों के खिलाफ FIR दर्ज करने की मांग करेंगे। इस मौके पर पार्टी के सभी वरिष्ठ नेता गिरफ्तारी देने जाएंगे। जब तक प्रशासन हमें गिरफ्तार नहीं करेगा हम थाने में ही बैठेंगे।

अब भाजपा गिरफ्तारी आंदोलन की तैयारी में है।
अब भाजपा गिरफ्तारी आंदोलन की तैयारी में है।

5 सितंबर को पुरानी बस्ती थाने में पादरी की पिटाई के बाद संजय सिंह और मनीष साहू को गिरफ्तार कर लिया गया था। उसी दिन थाने के प्रभारी को हटा दिया गया और देर रात अचानक शहर के एसपी भी बदल दिए गए। दरअसल, पिछले कुछ दिनों से भाटागांव में सभाएं कर धार्मिक ग्रंथ बांटने और लोगों का धर्म बदलने की शिकायत लेकर युवा पुरानी बस्ती थाने पहुंचे थे। अपना पक्ष रखने आए पादरियों के साथ युवक भिड़ गए। बात इस कदर बिगड़ी की धक्का-मुक्की शुरू हो गई। पुलिस पादरी को इंस्पेक्टर के कमरे में लेकर गई। यहां घुसकर युवकों ने पादरी को जूते से पीट दिया। छत्तीसगढ़ क्रिश्चियन फोरम के महासचिव अंकुश बरियेकर की शिकायत पर पुलिस ने सम्भव शाह, शुभान्कर द्विवेदी, मनीष साहू, संजय सिंह, विकाश मित्तल, अनुरोध शर्मा, शुभम अग्रवाल के खिलाफ केस दर्ज कर लिया।

छत्तीसगढ़ में धर्म परिवर्तन पर विवाद:भीड़ ने थाने में घुसकर पादरी को पीटा, 7 के खिलाफ केस दर्ज; हंगामे के बाद SSP ने थानेदार को हटाया

खबरें और भी हैं...