पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अग्निपथ योजना देश के युवाओं के साथ धोखा:महिला कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष बोलीं-ये जनरल विपिन रावत का अपमान, रक्षा विशेषज्ञ भी इसका विरोध कर रहे

रायपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महिला कांग्रेस की पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष शोभा ओझा ने राजीव भवन में पत्रकारों से चर्चा की।

कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर दिवंगत जनरल विपिन रावत के अपमान का आरोप लगाया है। महिला कांग्रेस की पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष शोभा ओझा ने रविवार को रायपुर में कहा, यह सरकार जवानों को चार साल में रिटायर करने की स्कीम लाकर दिवंगत जनरल विपिन रावत का अपमान कर रही है। उन्होंने कहा, कांग्रेस इस योजना के खिलाफ मंगलवार को देश भर में सत्याग्रह करने जा रही है।

शोभा ओझा ने कहा, जनरल रावत ने एक इंटरव्यू में कहा था सेना में सैनिक 17 साल की सर्विस के बाद रिटायर हो जाते हैं। उनके रिटायरमेंट की उम्र बढ़नी चाहिए। उन्होंने इसके लिए एक सर्कुलर भी निकाला था। अब सरकार की अग्निपथ योजना उनकी सोच और इच्छा का सीधा अपमान है। तीनों सेनाध्यक्षों के योजना के समर्थन में उतरने के सवाल पर शोभा ओझा ने कहा, जो लाेग ऑफिस में हैं, वे उससे बंधे हुए हैं। लेकिन पूर्व सैनिक अफसर, रक्षा विशेषज्ञ और युवा सब इस योजना का विरोध कर रहे हैं। यह एक गलत योजना है जो मौजूदा समस्याओंं का समाधान किए बिना देश की राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए नई समस्याएं पैदा करेगी। शोभा ओझा ने कहा, देश के अधिकतर युवा इस योजना के खिलाफ खड़े हैं। कांग्रेस उनके शांतिपूर्ण आंदोलन में साथ है। केंद्र सरकार को इस विवादित योजना को वापस लेना ही होगा।

युवाओं के साथ धोखा बताया

उन्होंने कहा, इस योजना के जरिए देश के युवाओं के साथ बहुत बड़ा धोखा किया जा रहा है। इस योजना की वजह से करीब 50 हजार ऐसे युवाओं के साथ बड़ा धोखा हुआ है जो रक्षा सेनाओं की फिजिकल और मेडिकल परीक्षाओं में पास हो गए थे। उनकी बस लिखित परीक्षा होनी थी। पहले दो साल तक कोविड का बहाना बनाया जाता रहा। अब पूरी भर्ती प्रक्रिया को रद्द कर कहा जा रहा है, सबको अग्निवीर के जरिए ही आना होगा।

25% तक को स्थायी करने पर भी सवाल

शोभा ओझा ने कहा, योजना में कहा गया है कि अग्निवीर में से 75% लोगों को चार साल बाद रिटायर किया जाएगा। वहीं 25% तक को आगे सर्विस में रखा जाएगा। यहां मार्केटिंग ट्रिक्स है। जैसे सेल में कहा जाता है कि 20% तक की छूट। यह 20% हो भी सकती है नहीं भी हो सकती। अग्निवीर में भी ऐसा ही है। उन्होंने कहा, जो 75% लोग वापस लौटेंगे, उनके साथ रिटायर और रिजेक्टेड का ठप्पा होगा। यह मनोबल तोड़ेगा। भाजपा की जिन राज्य सरकारों ने रिटायर अग्निवीरों को पुलिस आदि मेें भर्ती की घोषणा की है, उन्होंने भी कोई मेकनिज्म नहीं बताया है। यह भी एक जुमला भी साबित होने जा रहा है।