पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ठगी का नया फार्मूला:अलर्ट जारी, बूस्टर डोज के लिए रजिस्ट्रेशन के बहाने ठगी की कोशिश

रायपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना संक्रमण बढ़ने के साथ ही फ्रंट लाइन वर्कर और 60 से अधिक उम्र वालों को वैक्सीन की बूस्टर डोज लगायी जा रही है। वैक्सीन की दोनों डोज की तरह बूस्टर डोज के लिए सेंटर में रजिस्ट्रेशन हो रहा है, अब जालसाजों ने इसे भी ठगी का फार्मूला बना लिया है। लोगों को फोन और मैसेज कर बूस्टर डोज लगाने का झांसा दिया जा रहा है। लोगों से रजिस्ट्रेशन के नाम पर आधार और एटीएम का नंबर मांगा रहा है।

जानकारी मिलने के बाद लोगों से ओटीपी पूछकर उनके खाते में सेंध लगायी जा रही है। राजधानी में दो-तीन लोग अब तब तक इस फार्मूले से ठगी की कोशिश हुई, लेकिन ठग सफल नहीं हो पाए है। पुलिस ने इसे लेकर अलर्ट जारी कर दिया है कि बूस्टर डोज के लिए शासन प्रशासन की ओर से किसी को फोन नहीं किया जा रहा रहा है। इसके लिए पहले से रजिस्ट्रेशन की जरूरत नहीं है। कोई भी अपनी व्यक्तिगत जानकारी शेयर न करें। एएसपी तारकेश्वर पटेल ने बताया कि बूस्टर डोज के नाम पर सोशल मीडिया और वाट्सएप पर कुछ मैसेज वायरल हुआ है। ठग फोन कर बूस्टर डोज के बारे में जानकारी मांगी रहे है और कह रहे है कि बूस्टर लगवाना चाहते है तो उनकी मदद कर सकते हैं। इसके लिए रजिस्ट्रेशन कराना होगा, नहीं तो नंबर नहीं आएगा। अधिक समय लगेगा। पहले से रजिस्ट्रेशन कराने पर तुरंत डोज लग जाएगा। ठगों के जो झांसे में आ रहे है उनसे आधार नंबर, एटीएम या पैन नंबर मांगा जा रहा है। उसके बाद बैंक में रजिस्टर नंबर पर ओटीपी भेजा जा रहा है।

आम आदमी को नहीं लग रहा बूस्टर
पुलिस अफसरों ने बताया कि अभी सिर्फ फ्रंट लाइन वर्कर को बूस्टर डोज लगायी जा रही है। इसके अलावा 60 साल से अधिक उम्र वालों को लगाया जा रहा है। अन्य किसी को भी बूस्टर डोज नहीं लगाया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...