पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60821.62-0.17 %
  • NIFTY18114.9-0.35 %
  • GOLD(MCX 10 GM)476040.47 %
  • SILVER(MCX 1 KG)650340.55 %

वेदर अपडेट:ट्रैकिंग का नया प्वाइंट बना शिशुपाल पर्वत

महासमुंदएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सरायपाली स्थित शिशुपाल पर्वत ट्रैकिंग का नया प्वाइंट बन गया है। शनिवार और रविवार को यहां पर्यटकों की सबसे ज्यादा भीड़ होती है। राजधानी रायपुर से करीब 157 किमी की दूरी पर और सरायपाली से 30 किमी की दूरी पर स्थित पर्यटन स्थल शिशुपाल पर्वत स्थित है। समुद्र तल से शिशुपाल पर्वत की ऊंचाई करीब 900 फीट है। शिशुपाल पर्वत के ऊपर पहुंचने पर बड़ा सा मैदान है, जहां से बारिश के दिनों में पानी घोड़ाधार जलप्रपात के रूप में करीब 1100 फीट नीचे गिरता है।

ट्रैकिंग के लिए शिशुपाल पर्वत पर चढ़ाई कठिन है क्योंकि ऊपर पहुंचने के लिए करीब 1200 फीट की खड़ी चढ़ाई है

यहां ट्रैकिंग करने राजधानी से आ रहे युवा

रविवार को रायपुर से ओमी गोस्वामी, यमुना राव, राकेश साहू, अग्रिमा वर्मा और जयश्री बिस्वास यहां ट्रैकिंग के लिए पहुंचे थे। राकेश साहू ने बताया कि उन्होंने सुबह 9.30 बजे शिशुपाल पर्वत पर ट्रैकिंग शुरू की और करीब 12 बजे तक वे शीर्ष पर पहुंच चुके थे। राकेश साहू ने ये तस्वीर भास्कर को उपलब्ध कराई।

जानिए, ऐसे पड़ा इस पहाड़ का नाम

बताया जाता है कि इसी पहाड़ के ऊपर किसी समय राजा शिशुपाल का महल हुआ करता था। जब राजा को अंग्रेजो ने घेर लिया तब राजा ने अपने घोड़े की आंख पर पट्टी बांधकर पहाड़ से छलांग लगा दी थी। इसी कारण इस पहाड़ को शिशुपाल पर्वत और यहां के झरने को घोड़ाधार जलप्रपात कहा जाता है।

खबरें और भी हैं...