पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60821.62-0.17 %
  • NIFTY18114.9-0.35 %
  • GOLD(MCX 10 GM)476040.47 %
  • SILVER(MCX 1 KG)650340.55 %

मंडे पॉजिटिव:74 महिलाएं मजदूर से बनीं मालिक, 6 माह में बेचे 90 लाख के सामान

कोंडागांवएक महीने पहलेलेखक: विजय शर्मा
  • कॉपी लिंक
कोंडागांव. कृषक प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड बनाने वाली समूह की महिलाएं। - Money Bhaskar
कोंडागांव. कृषक प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड बनाने वाली समूह की महिलाएं।
  • 6 महीने पहले 6 समूहों को मिलाकर महिला कृषक प्रोड्यूसर कंपनी बनाई गई थी
  • 31 तरह के सामान ऑनलाइन बिक रहे

सालभर पहले 74 महिलाएं जिस उड़ान संस्था में मजदूरी का काम करके 150 से 200 रुपए रोजाना मजदूरी पाती थीं। आज उनकी मेहनत और लगन का परिणाम ऐसा रहा कि अब इस समूह की महिलाओं ने इसका नाम बदलकर महिला कृषक प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड बना डाली है जो 31 घरेलू उत्पाद तैयार कर पैकिंग कर रही हैं।

6 महीने पहले 6 महिला समूहों को मिलाकर महिला कृषक प्रोड्यूसर कंपनी बनाई गई थी। 74 महिलाओं की इस कंपनी में 10 डायरेक्टर हैं और 64 महिलाएं पार्टनर हैं। 6 महीने में कंपनी ने 60 लाख के प्रोडक्ट बेचे है और अभी करीब 30 लाख का ऑर्डर और मिल चुका है।

प्रत्येक महिला को 10 हजार तक हो रही कमाई

महिला समूह की डायरेक्टर विनीता पटेल, संध्या बैद्य, निराबती , हेमबती, लक्ष्मी, कुमारी ,जबल, राधा नेताम ने कहा कि हम उड़ान संस्था में मजदूर बनकर आए थे सालभर के अंदर 74 महिलाओं की लगन और मेहनत से कंपनी खड़ी कर ली है। अब इस कंपनी में सभी मजदूर नहीं, मालिक बन गए हैं। प्रतिमाह 8 से 10 हजार की आमदनी हो रही है बड़े पैमाने पर हमें ऑर्डर मिल रहे हैं।

मिर्च, इमली, नारियल तेल, ड्राईफ्रूट्स, अचार चप्पल, अगरबती सहित 31 प्रोडक्ट बना रहे

महिला कृषक प्रोड्यूसर कंपनी मिर्च, टेलकम पाउडर, इमली रागी, नारियल का तेल, ड्राईफूट्स, चावल, तिखुर, अचार, ग्रीन चिली, मिक्स आचार, चप्पल, इमली की चटनी, अगरबती, धूप, बैग, दोना-पत्तल जैसे कुल 31 उत्पाद की पूरी यूनिट तैयार है। जहां निर्माण से लेकर पैकिंग तक होने लगी है।

कलेक्टर पुष्पेन्द्र मीणा ने कहा कि हमने सालभर पहले उड़ान संस्था शुरू कर यहां उत्पाद तैयार करने महिला समूहों को काम पर लगाया था उनकी मेहनत लगन से अब देशभर से उन्हें ऑर्डर मिल रहे हैं। उन्हीं के नाम पर अब हमने कंपनी बना दी है उसका सीधा लाभ इन महिलाओं को मिलेगा।

छत्तीसगढ़ के अलावा दूसरे राज्यों तक जाने लगा सामान

छत्तीसगढ़ के अलावा बड़े पैमाने पर विशाखापट्टनम, नागपुर, इंदौर से लगातार ऑर्डर मिल रहे हैं। महिलाओं के बनाए उत्पादों के लिए अब जिला पंचायत अंतर्गत संचालित उड़ान आजीविका केंद्र के प्रबंधन, उत्पादों की मार्केटिंग और आजीविका गतिविधियां संबंधित कौशल विकास कार्य के लिए तकनीकी सहायक (एजेंसी) फर्म, संस्था के लिए निविदा जारी की गई है।

खबरें और भी हैं...