पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61350.260.63 %
  • NIFTY18268.40.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)479750.13 %
  • SILVER(MCX 1 KG)65231-0.33 %

बस्तर में राइस मिल ब्लैक लिस्टेड:जगदलपुर की आरबी राइस मिल इंडस्ट्रीज पर कार्रवाई; सरकारी धान की मिलिंग में लापरवाही का मामला

जगदलपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बस्तर जिले के बालेंगा के मेसर्स आर.बी. राइस इंडस्ट्रीज को कलेक्टर रजत बंसल ने ब्लैक लिस्टेड कर दिया है। (फाइल फोटो) - Money Bhaskar
बस्तर जिले के बालेंगा के मेसर्स आर.बी. राइस इंडस्ट्रीज को कलेक्टर रजत बंसल ने ब्लैक लिस्टेड कर दिया है। (फाइल फोटो)

बस्तर जिले के बालेंगा के मेसर्स आर.बी. राइस इंडस्ट्रीज को कलेक्टर रजत बंसल ने ब्लैक लिस्टेड कर दिया है। बताया जा रहा है कि राइस मिलर के द्वारा कस्टम मिलिंग के कार्य में रुचि नहीं लेने व क्षमता के अनुसार कार्य नहीं किए जाने के कारण कलेक्टर ने यह कार्रवाई की है। इधर जिले के ऐसे मिलर्स जो क्षमतानुसार कार्य नहीं कर रहे हैं उन्हें भी चेतावनी पत्र जारी कर कस्टम मिलिंग कार्य में तेजी लाने के निर्देश भी दिए गए हैं।

खाद्य नियंत्रक अजय यादव ने बताया कि, बालेंगा के मेसर्स आर.बी. राइस इंडस्ट्रीज के संचालक मोहम्मद आसिफ एवं मोहम्मद एजाज हैं। इनके फर्म की मिलिंग क्षमता 4 टन प्रति घंटा है। 6 माह में फर्म 96 हजार क्विंटल धान का कस्टम मिलिंग किया जा सकता था। केवल 64 हजार क्विंटल का अनुबंध कराया गया और 15751 क्विंटल धान का उठाव किया गया है। जो मिलिंग क्षमता का मात्र 16 प्रतिशत है।

उन्होंने आगे कहा कि, फर्म के द्वारा अंतिम बार 11 जून 2021 को छोटेदेवड़ा से डीओ के माध्यम से धान उठाव किया गया था। वहीं 1 माह से इस फर्म के द्वारा धान का उठाव नहीं किया गया। जिससे स्पष्ट हो गया था की इस फर्म के द्वारा कस्टम मिलिंग के कार्य में रुचि नहीं लेकर बड़ी लापरवाही की जा रही है।

जिले में 1 लाख 42 हजार 633 मीट्रिक टन धान की हुई खरीदी
जानकारी के मुताबिक, बस्तर जिले में खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 के अन्तर्गत 1 लाख 42 हजार 633 मीट्रिक टन धान की खरीदी की गई है। इसके अतिरिक्त जिले के संग्रहण केन्द्रों में कुल 1 लाख 24 हजार 232 मैट्रिक टन धान की आवक हुई है। खरीदे गए धान का जिले के पंजीकृत 27 राइस मिलरों के द्वारा कस्टम मिलिंग किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...