पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कब्जे हटाने पर विवाद:दुकानदार, उसके बेटे और पुलिस को भी राॅड से पीट डाला

कांकेर/पखांजूरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सीएम के दौरे से पहले अवैध कब्जे हटाने के प्रशासन के अभियान के दौरान दो अवैध कब्जेधारी आपस में भिड़ गए। एक का कहना था कि दूसरे के बड़े कब्जे के कारण बाकी सबके कब्जे भी हटाए जा रहे हैं। विवाद बढ़ा तो एक पक्ष ने दूसरे दुकानदार को नाली में पटक दिया। उसके बेटे को ट्रक के सामने फेंकने का प्रयास किया।

पुलिस पहुंची तो पुलिसवालों पर भी हमला कर दिया। इससे तीन जवान घायल हो गए। पुराने बाजार चौक में मुखर्जी साइकिल स्टोर के संचालक अरूण मुखर्जी की ओर से सड़क और नाली के बीच काफी मात्रा में मिट्‌टी डालकर उस जगह को ऊंचा कर लिया गया था, जहां बैठकर वह साइकिल बनाता था। पड़ोस में प्रभात हालदार की दुकान है। दोनों के बीच कब्जे की बात को लेकर विवाद हो गया।

डर ऐसा कि 200 की भीड़ में कोई नहीं आया सामने
आरोपी प्रभात हालदार के परिवार का क्षेत्र में दबदबा है। मारपीट के दौरान पुराना बाजार में घटनास्थल पर 200 से अधिक लोग जमा थे। इसके बावजूद किसी ने बीच-बचाव नहीं किया। कुछ ने बोलने की काेशिश की तो उन्हें भी पीवी-25 से लोगों को बुलवाकर जान से मारने की धमकी दी गई। आरोपियों के आतंक का अंदाजा इससे ही लगाया जा सकता है कि बीच-बचाव करने पहुंची पुलिस पर भी उन्होंने जानलेवा हमला कर दिया।

आरक्षक के सिर पर मारी रॉड, कुल तीन जवान घायल
जानकारी मिलते ही थाने से एसआई सत्यम साहू, आरक्षक संदीप जैन व इंद्रजीत बाइक से घटनास्थल पर पहुंचे। दुकान संचालक अरूण की पिटाई कर रहे आरोपी दुकानदार पुलिस जवानों से भी गाली-गलौज कर जान से मारने धमकी देते हुए उन पर भी टूट पड़े। राॅड से आरोपी प्रभात ने आरक्षक संदीप जैन के सिर पर वार किया।

साजन साना, महीम, तरूण हालदार आरक्षक को पटक कर बेहोश होने तक पीटा। इसके बाद प्रभात ने दूसरे आरक्षक इन्द्रजीत पर भी लोहे की राॅड से हमला किया। जिससे इन्द्रजीत के पैर में भी चोट आई। फिर एसआई को भी पीटा। पेट्रोलिंग गाड़ी के पहुंचने पर बीचबचाव करते हुए घायलों को अस्पताल लाया गया।

एएसआई सत्यम साहू के अनुसार समय पर पेट्रोलिंग गाड़ी नहीं आती तो उनकी जान जा सकती थी। हमले में दुकानदार अरूण और उसके बेटे अभिजीत के साथ 3 जवान घायल हो गए हैं। इनमें से गंभीर रूप से घायल एक जवान को पखांजूर अस्पताल से कांकेर रेफर किया गया।

खबरें और भी हैं...