पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

5 बेटियों के पिता ने फांसी लगाकर खुदकुशी की:पत्नी से कहा-तुम काम पर चलो मैं आता हूं, फिर पंखे से लटका मिला शव

​​​​​​​जांजगीर-चांपा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पंखे से लटका मिला अधेड़ का शव। - Money Bhaskar
पंखे से लटका मिला अधेड़ का शव।

छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा में सोमवार को एक अधेड़ ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। अधेड़ की 5 बेटियां हैं। इनमें से 2 की शादी हो गई है। अधेड़ अपनी पत्नी के साथ मजदूरी करता था। उसने काम पर जाने की बात कहकर चलने को कहा और फिर पत्नी को भेज खुद जान दे दी। अभी तक आत्महत्या का कारण स्पष्ट नहीं है। हालंाकि आसपास के लोगों का कहना है कि अधेड़ मानसिक रूप से परेशान था। मामला जांजगीर थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, पुटपूरा गांव निवासी दिलहरण यादव (52) अपनी पत्नी के साथ खेतों में मजदूरी करता था। रोज की तरह वह सोमवार को भी दंपती मजदूरी पर जाने के लिए तैयार हुए। इस दौरान दिलहरण ने अपनी पत्नी से कहा कि तुम आगे चलो मैं आ रहा हूं। इसके बाद उसकी पत्नी काम पर चली गई और दिलहराण घर लौट आया। इस दौरान उसकी बेटियां भी बाहर थीं। कुछ देर बाद जब बेटी घर पहुंची तो दिलहरण का शव पंखे से लटका देखा।

लोग बोले-खेती-बाड़ी थी, पर सब बिक गया

इस पर बेटी ने आसपास के लोगों को इसकी जानकारी दी। सूचना मिलने पर पुलिस भी पहुंच गई और शव को नीचे उतरवा कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। आसपास के लोगों ने बताया कि दिलहरण की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी। इसके चलते वह मानसिक रूप से परेशान रहता था। दिलहरण के पास पहले खेती-बाड़ी थी, लेकिन देखते ही देखते सब कुछ बिक गया। अब वह परिवार चलाने के लिए खुद दूसरों के खेत में मजदूरी करने लगा था।