पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

CG में नाव में तिरंगा यात्रा VIDEO:महानदी में 120 लोग राष्ट्रीय ध्वज लेकर निकले; दिल्ली की पदयात्रा पर निकले कृष्ण कुमार सैनी

जांजगीर-चांपा/बेमेतरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आजादी के अमृत महोत्सव का जश्न जारी है। छत्तीसगढ़ में पहली बार नाव से तिरंगा यात्रा निकाली गई। BJP नेताओं की अगुवाई में 120 से ज्यादा लोग महानदी में नाव लेकर उतरे। यह कवायद हर घर तिरंगा अभियान को सफल बनाने के लिए की गई। वहीं इस महोत्सव का साक्षी बनने के लिए राजिम के कृष्ण कुमार सैनी दिल्ली की पदयात्रा पर निकले हैं। मकसद लोगों में राष्ट्र भक्ति की भावना का प्रसार करना है।

रैली बेरकेल से हसौद सरसीवा पुल तक निकाली गई।
रैली बेरकेल से हसौद सरसीवा पुल तक निकाली गई।

दरअसल, आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर राष्ट्रीय स्तर पर विशेष आयोजन किए जा रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 13 से 15 अगस्त के बीच लोगों से अपने घरों में तिरंगा फहराने की अपील की है। आयोजन की सफलता के लिए अलग-अलग स्तर पर कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। इसी के तहत जांजगीर में जैजैपुर के ग्राम बरेकेल में महानदी में नाव से 2 किमी तक तिरंगा रैली निकाली गई। इस रैली में 10 नाव शामिल हुईं।

नदी में तिरंगा रैली पहली बार प्रदेश में निकालने का दावा किया जा रहा है।
नदी में तिरंगा रैली पहली बार प्रदेश में निकालने का दावा किया जा रहा है।

बेरकेल से हसौद सरसीवा पुल निकाली गई रैली
नदी में तिरंगा रैली पहली बार प्रदेश में निकालने का दावा किया जा रहा है। रैली बेरकेल से हसौद सरसीवा पुल तक निकाली गई। इस दौरान रैली में शामिल लोगों ने हर घर में तिरंगा फहराने की अपील की। रैली का आयोजन पूर्व विधायक निर्मल सिन्हा ने किया था। इस दौरान भाजपा मंडल अध्यक्ष कैलाश साहू, सरपंच पति दुर्गा लाल केवट, सुखदेव खूंटे सहित तमाम भाजपा नेता, कार्यकर्ता और स्थानीय लोग शामिल थे।

कृष्ण कुमार सैनी तिरंगा लेकर रायपुर से दिल्ली की पदयात्रा पर निकले हैं।
कृष्ण कुमार सैनी तिरंगा लेकर रायपुर से दिल्ली की पदयात्रा पर निकले हैं।

रायपुर से शुरू की है कृष्ण सैनी ने अपनी यात्रा
वहीं दूसरी ओर राजिम के रहने वाले कृष्ण कुमार सैनी तिरंगा लेकर पदयात्रा पर निकले हैं। उनकी यह यात्रा रायपुर के भारत माता चौक से शुरू हुई है। इस दौरान बेमेतरा पहुंचने पर पुराना बस स्टैंड के घड़ी चौक पर स्वागत किया गया। इसके बाद उनकी यात्रा कवर्धा से चिल्फी होते हुए आगे बढ़ गई है। कृष्ण सैनी 13 जून को लगातार 26 घंटे में 140 किलोमीटर की अपनी पदयात्रा पूरी कर इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में नाम दर्ज करा चुके हैं।

खबरें और भी हैं...