पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बड़ी कार्रवाई:5 एकड़ चारागाह पर खोली थी गोशाला, तोड़ दी

मैनपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गोशाला को मशीन के जरिए तोडृा गया। - Money Bhaskar
गोशाला को मशीन के जरिए तोडृा गया।

मैनपुर से लगभग 13 किलोमीटर की दूर ग्राम पंचायत अड़गड़ी में छत्तीसगढ़ नरवा गरवा घुरवा बारी योजना के तहत जूना अड़गडी में गोठान निर्माण किया गया है जहां वर्मी कंपोस्ट, गोबर खाद, स्वसहायता समूह के आर्थिक स्तर को सुदृढ़ के लिए सब्जी बाड़ी कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है। लगभग 5 एकड़ जमीन गोठान के पास मवेशियों के लिए चारागाह हेतु आरक्षित की गई थी जिस पर अतिक्रमणकारी ने कब्जा कर लिया था। नोटिस देने के बाद भी नहीं मानने पर प्रशासन ने आखिरकार गुरुवार को को बड़ी कार्रवाई कर चारागाह पर संचालित गोशाला को हटा दिया।

ग्राम पंचायत के जिम्मेदारों द्वारा बेजा कब्जा हटाने को लेकर लिखित एवं मौखिक रूप से समझाइश दिए जाने के बाद भी अतिक्रमणकारी कब्जे नहीं हटा रहे थे। इस कारण गोठान में चारागाह की समस्या उत्पन्न हो गई थी। साल भर पहले ग्राम पंचायत ने अतिक्रमणकारियों को कब्जा हटाने के लिए नोटिस दी थी। उसके बावजूद भी कोई प्रतिक्रिया या जवाबी संवाद नहीं आने पर पुनः स्मरण पत्र दिलाते हुए कब्जा हटाने के लिए ग्राम पंचायत अड़गडी द्वारा 5 दिन का समय देकर गोशाला संचालक को नोटिस दिया गया।

इसकी सूचना अनुविभागीय अधिकारी राजस्व मैनपुर, तहसीलदार मैनपुर, सीईओ मैनपुर, थाना प्रभारी शोभा, रेंजर तौरेंगा को भी दी गई थी। इस मियाद के अनुसार गुरुवार दोपहर को विभागीय अमले ने सारे अतिक्रमण को हटाते हुए बारिश के सीजन को देखते हुए मकान एवं उससे लगी बाड़ी को फिलहाल छोड़ दिया है। मौके पर तहसीलदार मैनपुर नीलमणि दुबे, थाना प्रभारी शोभा जयसिंह ध्रुवे, क्षेत्र के वरिष्ठ कांग्रेसी पुनीतराम ध्रुव, प्रधान आरक्षक पुरुषोत्तम यादव आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...