पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मंडी को मिला अध्यक्ष:3 करोड़ शुल्क की गरियाबंद मंडी के ओम पहले अध्यक्ष

देवभोग2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सालाना 3 करोड़ मंडी शुल्क देने वाली गरियाबंद कृषि उपज मंडी समिति के ओम राठौर पहले अध्यक्ष बनाए गए हैं जबकि सुखचंद बेसरा उपाध्यक्ष। बताया जाता है कि सुखचंद की सीएम हाउस तक दखल है। यह नियुक्ति 12 साल बाद हुई है। मंडी बोर्ड में इस नियुक्ति में राजिम विधायक अमितेष शुक्ल की फिरकी चल गई। समिति के सदस्य के रूप में मोहम्मद जुली मेमन, दीपक पांडेय, चंद्रभूषण चौहान, चंद्रहास साहू, यष्पेंद्र शाह को मनोनीत किया गया है।

अध्यक्ष के लिए एससी वर्ग के बिंद्रानवागढ़ विधानसभा के जमीनी कार्यकर्ता सुखचंद बेसरा का नाम तय था पर अमितेष शुक्ल ऐन वक्त पर अपने समर्थकों के नाम को शामिल कराने में सफल हो गए। अध्यक्ष के प्रबल दावेदार को उपाध्यक्ष का पद देकर संतुष्ट किया गया। इतना ही नहीं बाकी 5 सदस्य भी राजिम विधानसभा क्षेत्र की झोली में गए।

नए प्रावधान के मुताबिक सरकार की ओर से आखिरकार मंडी बोर्ड समिति के संचालक मंडल का मनोनयन कर दिया गया। गरियाबंद के नपा अध्यक्ष रह चुके ओम राठौर को मंडी समिति का अध्यक्ष बनाया गया है। इनकी धर्मपत्नी ममता राठौर महिला जिला कांग्रेस की अध्यक्ष थीं, जिनका निधन बीती कोरोना लहर में हो गया था। देवभोग जनपद उपाध्यक्ष सुखचंद बेसरा को मंडी उपाध्यक्ष मनोनीत किया गया है जिनकी गिनती सीएम हाउस में दखल रखने वाले बड़े नेताओं में की जाती है।

2010 के बाद से पद पर कोई नहीं था

2010 के बाद से पद पर कोई नहीं था मंडी में पहले यह पद निर्वाचित पदाधिकारी के लिए था। देवसिंह रात्रे का कार्यकाल 2010 में खत्म हुआ। इसके बाद से निर्वाचन प्रथा को समाप्त कर दिया गया पर समिति का गठन भी नहीं किया गया था। सरकार बदलने के बाद अब जाकर इस खाली पदों पर नियुक्ति की गई है।

गरियाबंद कृषि मंडी प्रति वर्ष 3 करोड़ का सालाना टैक्स वसूलती है जिसका 0.2 प्रतिशत निराश्रित पेंशन के लिए कलेक्टर की मद में जमा किया जाता है।शेष रकम का 50 फीसदी सरकार को तो 50 फीसदी का खर्च मंडी बोर्ड करता है। इसमें कर्मचारियों के वेतन भत्ते से लेकर सभी प्रकार के खर्च शामिल हैं।

15 साल बाद भाटापारा मंडी को मिला अध्यक्ष

शासन ने प्रदेश कांग्रेस सचिव सुशील शर्मा को भाटापारा कृषि उपज मंडी का नया अध्यक्ष नियुक्त किया है। मंडी में 15 साल से यह पद खाली था। उनकी नियुक्ति का आदेश बुधवार शाम कृषि विपणन संघ के संचालक भुवनेश्वर यादव ने जारी किया। इसके अलावा चित्ररेखा साहू उपाध्यक्ष, अमरनाथ नेताम केशला, डॉ.केके नायक, अश्विनी बारले पौसरी, तुलाराम यादव निपनिया को सदस्य, नरेन्द्र भूषाणिया व्यापारी प्रतिनिधि सदस्य को नियुक्त किया गया है।

खबरें और भी हैं...