पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59005.270.88 %
  • NIFTY175620.95 %
  • GOLD(MCX 10 GM)463320.4 %
  • SILVER(MCX 1 KG)602350.53 %

बिलासपुर में शादी के लिए मैरिज गार्डन फुल:नवंबर से दिसंबर तक 15 दिन का शुभ मुहूर्त, अभी से लोगों ने रिजर्व किए होटल्स और हॉल; दूसरी लहर के चलते नहीं हो पाई थीं कई शादियां

बिलासपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बिलासपुर के ज्यादातर होटल्स और मैरिज गार्डन में शादी-पार्टी के लिए बुकिंग फुल हो चुकी है। - Money Bhaskar
बिलासपुर के ज्यादातर होटल्स और मैरिज गार्डन में शादी-पार्टी के लिए बुकिंग फुल हो चुकी है।

बिलासपुर में कोरोना के दूसरी लहर के चलते अप्रैल-मई में होने वाली बहुत सी शादियां कैंसल हो गईं थी। लेकिन अब एक बार फिर संक्रमण कम होने के कारण लोग चाह रहे हैं कि जो शादियां रुकी हुई हैं उन्हें जल्द से जल्द करा दिया जाए। यही कारण है कि नवंबर से दिसंबर तक 14 दिन के लग्न मुहूर्त के लिए लोगों ने अभी से शहर के मैरिज हॉल, पार्टी प्लाॅट और होटल्स बुक करा लिए हैं। आलम ये है कि शहर के ज्यादातर होटल्स और मैरिज गार्डन फुल हो गए हैं। वहीं बैंड बाजा, टैंट और बग्घी के लिए भी लोगों ने एडवांस राशि जमा कर दी है।

दरअसल, बिलासपुर में लोगों ने अप्रैल और मई महीने में भी शादी के लिए गार्डन और मैरिज पैलेस बुक करवाए थे। लेकिन कोरोना का संक्रमण अप्रैल महीने में भीषण हो गया। इसी वजह से कई लोगों ने शादी का प्लान कैंसल कर दिया। पर अब एक बार फिर से संक्रमण कम हुआ है। ऐसे में लोग चाह रहे हैं कि शादियां जल्द हो जाएं। अब नवंबर और दिसंबर महीने में ही सिर्फ 14 दिन का मुहूर्त है। इसके लिए लोगों ने अभी से बुकिंग करानी शुरू कर दी है। इसमें ऐसे लोग भी शामिल हैं जिन्होंने अप्रैल-मई में तो बुकिंग नहीं कराई थी। पर अब वे भी नवंबर-दिसंबर में शादी करना चाहते हैं।

इस तरह के शादी हॉल शहर में बुक किए गए हैं।
इस तरह के शादी हॉल शहर में बुक किए गए हैं।

तीसरी लहर के चलते एडवांस राशि कम

इधर, लोगों ने बैंड, बग्घी और टैंट भी बुक करा लिए हैं। लेकिन कोरोना की तीसरी लहर का खतरा बना हुआ है। जिसकी वजह से से मैरिज गार्डन, होटल्स और बैंड में बुकिंग की एडवांस राशि भी कम ली गई है। यानि जहां पहले 10 लाख की शादी के लिए 1 लाख एडवांस जमा कराए जाते थे। वहां अब सिर्फ 10 ये 20 हजार रुपए ही लिए गाए हैं। जिससे यदि तीसरी लहर आती है और शादी कैंसिल करनी पड़ती है तो बुकिंग कराने वाले और बुकिंग करने वाले को कम नुकसान होगा।

बुकिंग के लिए होड़ मच गई

इवेंट मैनेजमेंट करने वाले कृष्णा जायसवाल ने बताया कि नवंबर-दिसंबर में लग्न के शुभ मुहूर्तों पर बुकिंग के लिए अभी से होड़ मची हुई है। जायसवाल के मुताबिक शहर के ज्यादातर होटल्स और मैरिज गार्डन बुक हो गए हैं। वहीं पंडितों के मुताबिक 15 नवंबर को हरिप्रबोधिनी एकादशी के बाद नवंबर 19 से 13 दिसंबर तक ही विवाह के शुभ मुहूर्त हैं। नवंबर में ये मुहूर्त 19 नवंबर से शुरू होकर 20, 21, 22, 26, 27, 28, 30 और दिसंबर में 5, 6, 7, 11, 12, 13 तक हैं। उसके बाद खरमास शुरू हो जाएगा।

कोरोना के चलते शहर में अप्रैल-मई में कई शादियां नहीं हो सकी थीं।
कोरोना के चलते शहर में अप्रैल-मई में कई शादियां नहीं हो सकी थीं।

तीसरी लहर कब तक आ सकती है?

छत्तीसगढ़ में ही नहीं बल्कि पूरे देश को लेकर डॉक्टर्स और एक्सपर्ट का दावा है कि कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर अगस्त या सितंबर में आ सकती है। जो सबसे ज्यादा बच्चों के लिए घातक होगी। जिसके लिए बिलासपुर और प्रदेशभर में तैयारियां भी की जा रही हैं। वहीं देशभर में वैक्सीनेशन का काम भी किया जा रहा है। लेकिन बिलासपुर में वैक्सीनेशन की रफ्तार कुछ धीमी चल रही है। यहां आए दिन वैक्सीनेशन बंद होने की खबरें सामने आती रहती हैं। यही हाल पूरे प्रदेश का भी है।

बिलासपुर में तीसरी लहर से लड़ने की तैयारी:3 अगस्त से फिर से शुरू होगा 100 बेड वाला कोविड अस्पताल, इस बार 16 की जगह 26 वेंटिलेटर की होगी सुविधा

बिलासपुर में कोरोना संक्रमण

जिले में कोरोना संक्रमण की दोनों लहरों ने जमकर तांडव मचाया था। पर अब राहत की बात ये ही कि संक्रमण के मामले लगातार कम आ रहे हैं। जहां पहले आंकड़ा 2 अंकों का रहता था यानी(50 या 60) वो अब घट कर एक अंक में आ गया है। यहां अब पिछले दो दिनों से 5-5 मरीज ही मिले हैं। इस प्रकार जिले में अब तक 65,338 लोग कोरोना की चपेट मे आ चुके हैं। जिसमें 64 हजार 52 लोग ठीक भी हो चुके हैंं। जबकि 1204 लोगों ने कोरोना संक्रमण के चलते दम तोड़ दिया है।

छत्तीसगढ़ में संक्रमण दर 0.3 फीसदी हुई:जुलाई में एक भी मौत नहीं होने का दूसरी बार दावा; पहले भी गलत साबित हो चुका है यह दावा; प्रदेश में 130 नए संक्रमित मिले