पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60821.62-0.17 %
  • NIFTY18114.9-0.35 %
  • GOLD(MCX 10 GM)476040.47 %
  • SILVER(MCX 1 KG)650340.55 %

मूर्ति विसर्जन:बिना गाजे-बाजे के विसर्जित की गई गणेश प्रतिमाएं, आज भी करेंगे

डोंगरगढ़/मुरमुंदाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना संक्रमण के चलते इस बार बप्पा की विदाई सादे समारोह में होगी। बिना गाजे-बाजे के ही गणेश प्रतिमाएं तालाबों में विसर्जित की जाएगी। अंचल में शासन के निर्देशानुसार निर्धारित साइज में प्रतिमाएं स्थापित की गई है। वहीं कड़ाई के चलते कई बड़े पंडाल इस बार लग ही नहीं पाए। पिछले साल की तरह गणेशोत्सव भी पूरी तरह से फीका ही रहा। रविवार को गणेश पंडालों में हवन किया गया। हवन के बाद रविवार शाम से ही तालाबों में विसर्जन का दौर शुरू हो गया।

सोमवार को सभी छोटी-बड़ी मूर्तियां विसर्जित होगी। इधर प्रशासन ने डीजे व अन्य साउंड सिस्टम बजाने पर प्रतिबंध लगाया हुआ है। इसके बावजूद शहर व ग्रामीण क्षेत्रों से समिति के सदस्य डीजे का परमिशन लेने एसडीएम दफ्तर पहुंच गए। सीमित लोगों की उपस्थिति में विसर्जित करने कहा गया। रविवार शाम को महावीर तालाब में बनाए गए कुंड में मूर्ति विसर्जन शुरू हुआ। लगातार बारिश के बाद तालाब लबालब हो गया है, इसलिए पुलिस जवानों व नगर पालिका कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। लोगों को पानी में उतरने मना किया गया। वहीं मूर्तियों का विसर्जन निर्धारित कुंड में ही करने कहा गया है। महावीर मंदिर से लेकर नीम पेड़ तक तालाब में बेरीकेड्स लगा दिए गए हैं।

खबरें और भी हैं...