पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59005.270.88 %
  • NIFTY175620.95 %
  • GOLD(MCX 10 GM)463320.4 %
  • SILVER(MCX 1 KG)602350.53 %

शैक्षणिक कैलेंडर जारी:शेड्यूल तय; 40% ऑनलाइन व 60% ऑफलाइन लगेंगी कक्षाएं, 30 सितंबर तक हाेगा छात्रसंघ गठन

भिलाई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कॉलेजों व विश्वविद्यालय में छुटि्टयों, खेलों समेत अन्य कार्यक्रमों का शेड्यूल तय
  • यह भी: 2 से 31 अगस्त तक फर्स्ट इयर में दिया जाएगा प्रवेश

उच्च शिक्षा विभाग ने शैक्षणिक कैलेंडर जारी कर दिया है। इसके अनुसार अकादमिक विश्वविद्यालयों में सालभर कार्यक्रम संचालित किए जाएंगे। इसमें पढ़ाई, परीक्षा समेत अन्य कार्यक्रमों का उल्लेख किया गया है। इसके अनुसार 21 से 30 सितंबर के बीच महाविद्यालयों और विश्वविद्यालयों में छात्रसंघ का गठन किया जाएगा। पदाधिकारियों का शपथ ग्रहण भी करना होगा।

हालांकि अभी छात्रसंघ गठन की मनोनयन या चुनाव से होगा तय नहीं किया गया है। इसे आने वाले दिनों में उत्पन्न होने वाली परिस्थितियों पर छोड़ दिया गया है। शिक्षा सत्र के दौरान 40 फीसदी कक्षाएं ऑनलाइन और 60 फीसदी कक्षाएं ऑफलाइन होगी। अवर सचिव गौरीशंकर शर्मा के हस्ताक्षर से राज्य के सभी विश्वविद्यालयों के कुलसचिवों और महाविद्यालयों के प्राचार्यों को शैक्षणिक कैलेंडर भेजा गया है। इसके अनुसार 2 से 31 अगस्त तक छात्रों को प्रथम वर्ष में और इससे आगे की कक्षाओं में नतीजे घोषित होने के 15 दिन के भीतर प्रवेश लेना होगा। कुलपति की अनुमति से 15 सितंबर तक प्रवेश दिया जाएगा। साथ ही इसमें पुनर्मूल्यांकन, पूरक परीक्षा, इसके नतीजे, आंतरिक मूल्यांकन, वार्षिक परीक्षाएं, छुट्‌टी, खेलकूद, एनसीसी और एनएसएस के कार्यक्रमों का भी उल्लेख किया गया है। खेलकूद के कार्यक्रमों की समय सीमा का उल्लेख नहीं किया गया है। सिर्फ विषम परिस्थितियों में शासन के निर्देश मान्य होंगे लिखा गया है। वहीं कॉलेज स्तर पर 21, 22 और 23 दिसंबर में से कोई एक दिन वार्षिकोत्सव का आयोजन किया जा सकता है। इसके अलावा भी अन्य कार्यक्रमों का शेड्यूल तय कर दिया गया है। कोविड नियमों का पालन करते हुए यह तैयार किया गया।

7 में से 5 आंतरिक मूल्यांकन परीक्षा में आना जरूरी
कैलेंडर के अनुसार 5 अक्टूबर को पहली इकाई, 3 नवंबर को दूसरी इकाई, 1 से 3 दिसंबर तक प्रथम सत्र की परीक्षा, 5 जनवरी को तीसरी इकाई, 20 से 22 जनवरी 2022 के बीच दूसरी सत्र परीक्षा, 8 फरवरी 2022 को चौथे यूनिट की आंतरिक परीक्षा होगी। प्री फाइनल परीक्षा 22, 23 और 24 फरवरी को होगी। इस तरह सालभर में होने वाली 7 परीक्षाओं में से 5 परीक्षाओं में छात्रों को शामिल होना अनिवार्य होगा। दोनों तरह की कक्षाओं में 75% उपस्थिति अनिवार्य होगी। कक्षाओं की पहली गणना 30 नवंबर तक और दूसरी गणना 28 फरवरी तक होगी।

16 अप्रैल से 15 जून के बीच होगी वार्षिक परीक्षा
आदेश के अनुसार विश्वविद्यालयों को इस बार 16 अप्रैल 2022 से 15 जून 2022 के बीच वार्षिक परीक्षाएं लेनी होगी। यह भी तय करना होगा कि शैक्षणिक कार्यदिवस 180 दिन का हो। इससे कम होने पर अतिरिक्त कक्षाएं लेकर उसे समायोजित करना होगा।

दशहरे की 3 व दीपावली की 4 दिन की होगी छुट्टी
शैक्षणिक कैलेंडर में छुट्टियों का भी उल्लेख है। इसके अनुसार दशहरे पर 14 से 16 अक्टूबर तक 3 दिन, दीपावली की 3 से 6 नवंबर तक 4 दिन की छुट्‌टी रहेगी। शीतकालीन छुट्टी 23 से 25 दिसंबर तक और गर्मी की छुट्टी 16 से 30 जून तक 15 दिन की रहेगी।

बैठक क्षमता आधी रहेगी सेक्शन जरूर बढ़ाए जाएंगे
जारी शैक्षणिक कैलेंडर में स्पष्ट शब्दो में लिखा है कि इस बार 180 दिन क्लास लगाई जानी है। कम दिन होने की वजह से अतिरिक्त कक्षाएं ली जाएं। साथ ही यह भी कहा है कि 40 फीसदी कक्षाएं ऑनलाइन ली जाए और 60 फीसदी ऑफलाइन। ऑनलाइन कक्षाओं के लिए विभिन्न माध्यमों का उपयोग किया जाए। कॉलेजो में बैठक व्यवस्था कुल बैठक क्षमता की आधी रखी जाए। साथ ही सेक्शन में वृद्धि किया जाए। इससे कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए कक्षाएं लगाने में आसानी होगी। साथ ही शासन के निर्देशों का पालन कराया जा सके। सुरक्षा की जरूरी व्यवस्था भी रखी जाएगी।

खबरें और भी हैं...