पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

फर्जी साइन कर 1.70 करोड़ का फ्रॉड:पेट्रोल पंप की कमाई देख दोस्त की नीयत में आया खोट, BPCL के अफसर से मिलकर बनवाई फर्जी डीड

भिलाई6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डमी फोटो - Money Bhaskar
डमी फोटो

एक दोस्त ने दूसरे दोस्त के खिलाफ फर्जी साइन करके पार्टनरशिप डीड को अपने नाम करने का आरोप लगाया है। दुर्ग पुलिस ने आरोप को सही पाते हुए आरोपी दोस्त के के खिलाफ 1 करोड़ 70 लाख रुपए की ठगी का मामला दर्ज किया है। भिलाई नगर पुलिस ने आरोपी शशि रंजन सिंह के खिलाफ धारा 420, 467, 468, 471 के तहत जुर्म दर्ज जांच शुरू की है।

भिलाई नगर टीआई एम एल शुक्ला ने बताया कि रिसाली प्रियदर्शिनी नगर निवासी व्यवसायी जय घोष (61) पिछले 26 सालों से हुडको में क्लासिक फ्यूल्स के नाम से पेट्रोल पंप का संचालन कर रहा है। उसने शिकायत दर्द कराई है कि 2018 में बेटी की शादी के लिए रुपए की जरूरत होने से पंप की 51 प्रतिशत हिस्सेदारी अपने दोस्त शशि रंजन सिंह को दे दी थी। इसके लिए दोनों के बीच 1.70 करोड़ का एग्रीमेंट भी हुआ था। इसके बाद वह बेटी की शादी के लिए केरल चला गया।

10 नवंबर 2019 को जब वह बेटी की शादी से लौटा और पंप पहुंचा तो वहां से उसकी कुर्सी हटा दी गई थी। यहां आकर पता चला कि पेट्रोल पंप की कमाई को देखकर शशि रंजन सिंह के मन में लालच आ गया। उसने बीपीसीएल के अधिकारी को मिलाकर फर्जी डीड तैयार की और खुद पेट्रोल पंप का पूर्ण मालिक बन गया। इसके बाद जय घोष वहीं बेहोश होकर गिर गया। उपचार के बाद ठीक होने के बाद उसने भिलाई नगर थाने में लिखित शिकायत की। जांच के बाद पुलिस ने बुधवार को आरोपी शशि रंजन के खिलाफ मामला दर्ज किया।

हैंड राइटिंग एक्सपर्ट ने बताया हस्ताक्षर फर्जी

जय घोष के आवेदन पर भिलाई नगर पुलिस ने मामले की जांच की। जांच के दौरान पुलिस ने इकरारनामा में साइन को जांच के लिए हैंड राइटिंग एक्सपर्ट के पास भेजा। हैंड राइटिंग एक्सपर्ट ने परीक्षण करने के बाद बताया कि दस्तावेज में किए गए हस्ताक्षर फर्जी बनाए गए हैं। जांच में आरोप की पुष्टि होने के बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया।

खबरें और भी हैं...