पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वीर मेला के लिए रूट डायवर्ट:रायपुर की ओर से आने वाली बड़ी गाड़ियां सिहावा चौक धमतरी से होते हुए कोंडागांव जगदलपुर के लिए रवाना होगी

बालोद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बालोद. वीर मेला के लिए रूट डायवर्सन का प्लान बनाया गया है। - Money Bhaskar
बालोद. वीर मेला के लिए रूट डायवर्सन का प्लान बनाया गया है।

शहीद वीर नारायण सिंह के शहादत दिवस पर आदिवासी समाज के तत्वावधान में 8 से 10 दिसंबर तक राजाराव पठार कर्रेझर में वीर मेला का आयोजन किया गया है। जिसमें तीन जिले बालोद, कांकेर, धमतरी के सामाजिक पदाधिकारी, लोग पहुंचेंगे। इसके अलावा प्रदेशभर से सामाजिक पदाधिकारी, जनप्रतिनिधि भी शामिल होंगे। जिसके चलते पुलिस प्रशासन की ओर से रूट डायवर्सन प्लान बनाया गया है ताकि ट्रैफिक जाम की स्थिति न बनें।

वीर मेला के चलते चारामा-पुरूर नेशनल हाइवे 30 धमतरी से जगदलपुर मार्ग चारामा एवं धमतरी के बीच जिला बालोद अंतर्गत वीर मेला स्थल में वाहनों की आवाजाही होगी। प्लानिंग के अनुसार सिर्फ मालवाहक वाहनों के लिए रूट डायवर्ट किया गया है। जिसके अनुसार रायपुर, धमतरी तरफ से आने वाली बड़ी मालवाहक गाड़ियां धमतरी सिहावा चौक से करेगाव- कोलियारी-नगरी-सिहावा -कांकेर होते हुए कोंडागांव जगदलपुर से गंतव्य स्थान की ओर रवाना होंगे।

जगदलपुर-कोंडागांव की तरफ से आने वाली बड़ी मालवाहक गाड़ियां केशकाल विश्रामपुरी चौक से विश्रामपुरी- सिहावा नगरी-धमतरी होते हुए रायपुर के लिए रवाना होंगे। राजनांदगांव-दुर्ग-भिलाई जाने के लिए माकड़ी चौक से भानुप्रतापुर, डौंडी और दल्लीराजहरा-राजनांदगांव होते हुए दुर्ग- भिलाई-रायपुर के लिए रवाना होंगे।

कांकेर, राजनांदगांव क्षेत्र के लोग पहुंचेंगे
पुलिस प्रशासन के प्लानिंग अनुसार कार और दोपहिया वाहन सहित अन्य छोटी वाहनों की आवाजाही होती रहेगी। एसपी डॉ. जितेन्द्र कुमार यादव ने सुरक्षा के लिहाज से जवानों की ड्यूटी लगाई है। देव मेला आदिवासी हॉट, आदिवासी सांस्कृतिक कार्यक्रम, रेला पाटा, आदिवासी महापंचायत तथा शहीद वीरनारायण सिंह की श्रद्धांजलि सभा के कार्यक्रम में बालोद, धमतरी, कांकेर, राजनांदगांव, मानपुर मोहला क्षेत्र के अदिवासी समाज के लोग ज्यादा पहुंचते हैं।

जिला यातायात प्रभारी दिलेश्वर चंद्रवंशी ने बताया कि वीर मेला के चलते यातायात व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए धमतरी से चारामा के बीच तक बड़े मालवाहक वाहनों के आने-जाने के लिए सुबह 9 से रात 9 बजे तक रूट परिवर्तित किया गया है। कार और छोटे वाहनों की आवाजाही होती रहेगी। इधर समाज के पदाधिकारियों ने बताया कि वीर मेला की तैयारी पूरी कर ली गई है।

खबरें और भी हैं...