पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

डॉ.भीमराव अंबेडकर का 66वां महापरिनिर्वाण दिवस:बौद्ध उपासकों ने परित्राण पाठ त्रिशरण पंचशील ग्रहण किया

दल्ली राजहरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सम्यक बौद्ध महासभा दल्लीराजहरा के तत्वावधान में शिक्षित बनो संगठित रहो और संघर्ष करो का नारा देने वाले भारत रत्न बोधिसत्व डॉ. भीमराव अंबेडकर का 66 वा महापरिनिर्वाण दिवस मनाया गया। प्रथम चरण में सुबह 10 पंचशील झंडा व नीले झंडे को श्रद्धा पूर्वक झुकाया गया। बाबा साहब के छायाचित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किया।

द्वितीय चरण में शाम 6 बजे अंबेडकर भवन में परित्राण पाठ, त्रिशरण पंचशील ग्रहण किया। समाज के वरिष्ठ जन गोवर्धन रंगारी, अजय रामटेके, कृष्णमूर्ति रामटेके, सुरेंद्र मेश्राम, बीआर भोसले, प्रहलाद मेश्राम, हेमंत कांडे, अशोक बाम्बेश्वर, चंद्ररेखा नंदेश्वर ने डॉ भीमराव अंबेडकर के जीवनी पर अपने विचार रखे। अंबेडकर मेमोरियल हाल से बौद्ध उपासकों ने मोमबत्ती जलाकर जैन भवन चौक पर अंबेडकर को श्रद्धा सुमन अर्पित किए।

इस अवसर पर ओमप्रकाश रामटेके ,रोशन पाटील ,देवानंद दहिविले, संतोष मेश्राम, रमेश भगत, संतोष सहारे, योगराज बोरकर, अनिल मेंदे, राधेलाल मेश्राम, सिद्धार्थ मानवकर, देवेश मेश्राम, जीतेंद्र मेश्राम, सतीश हुमने, विशाल दासोडे,अभिजीत भगत, तुकाराम रंगारी, सूरज कुमार मेश्राम, भावना दासोडे, निर्मला भगत, अनीता उके, कौशल्या बन्सोडे, अमृता डोंगरे,मंगला सहारे उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...