पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पंजाब चुनाव पर नशे का साया:7 दिन में 39 करोड़ की ड्रग्स और 81 लाख की शराब पकड़ी, 2222 लोग कर सकते हैं गड़बड़ी

चंडीगढ़एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब विधानसभा चुनाव पर नशे का साया मंडरा रहा है। इसे देखते हुए चुनाव आयोग ने चाबुक चलाना शुरू कर दिया है। 8 जनवरी को चुनाव की घोषणा के एक हफ्ते के भीतर पंजाब में 38.93 करोड़ कीमत का नशा पकड़ा जा चुका है। इसके अलावा 81 लाख कीमत की 2.72 लाख लीटर शराब भी बरामद की गई है।

यह जानकारी राज्य के मुख्य चुनाव अफसर डॉ. एस. करूणा राजू ने दी। उन्होंने कहा कि चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद 40.31 करोड़ का सामान जब्त किया जा चुका है। इसमें 14 लाख की नकदी भी शामिल है। वहीं, पंजाब में 2222 लोगों की पहचान की गई है, जो गड़बड़ी फैला सकते हैं। इनमें से 894 पर कार्रवाई की जा चुकी है।

अफसरों से मीटिंग करते मुख्य चुनाव अफसर डॉ. करुणा राजू।
अफसरों से मीटिंग करते मुख्य चुनाव अफसर डॉ. करुणा राजू।

पंजाब में ड्रग्स बड़ी चिंता; हाईकोर्ट मांग चुकी जवाब
पंजाब में ड्रग्स हर लिहाज से बड़ा मुद्दा है। ड्रग्स को बढ़ावा देने के लिए राजनीतिक जंग चल रही है। वहीं, वोटर्स को लुभाने के लिए भी नशे का सहारा लेने का अंदेशा है। इसे देखते हुए पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट ने भी पंजाब चुनाव में नशे को रोकने के लिए रोडमैप मांगा था। पंजाब सरकार से भी सवाल पूछे गए कि उन्होंने पंजाब में नशे को लेकर कोई स्टडी करवाई है तो उसकी रिपोर्ट हाईकोर्ट को दें।

राज्य में 1,064 संवेदनशील जगहें, 3,692 नाके लगाए
डॉ. राजू ने बताया कि चुनाव के लिहाज से पंजाब में 1,064 संवेदनशील जगहें चुनी गई हैं, जहां सुरक्षा के कड़े इंतजाम हैं। पुलिस की मदद से राज्य में 3,692 नाके लगाए जा चुके हैं। पंजाब में 3 लाख 23 हजार 102 लाइसेंसी हथियार जमा कराए जा चुके हैं। पिछले एक हफ्ते में 20 अवैध हथियार भी पकड़े गए हैं।

2,064 गैर जमानती वारंट पर एक्शन
पंजाब में चुनाव के दौरान गड़बड़ी न हो, इसके लिए 2,064 गैर जमानती वारंट पर एक्शन लिया गया है। बाकी बचे 239 लोगों पर भी कार्रवाई तेज कर दी गई है। वहीं 118 लोगों के खिलाफ भी एहतियाती कार्रवाई की जा चुकी है।

सरकारी जगहों से 53 हजार पोस्टर हटाए
पंजाब में चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद 53 हजार 610 पोस्टर हटाए गए हैं। यह पोस्टर सरकारी जगहों पर लगे हुए थे। इसके अलावा 15 हजार निजी स्थानों और दीवारों पर लगे पोस्टर और बैनर भी हटाए गए हैं।

खबरें और भी हैं...