पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Chandigarh
  • Garbage Collection Charges Will Be An Important Issue In MC House, Municipal Corporation Meeting Will Be Held On May 27; Against The Merchant Fix Charge

MC हाउस में उठेगा गारबेज कलेक्शन चार्जेस का मुद्दा:व्यापारी 500 रुपए फिक्स चार्ज लिए जाने के खिलाफ, कांग्रेस पहले ही विरोध में

चंडीगढ़8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सेक्टर 17 स्थित नगर निगम बिल्डिंग। - Money Bhaskar
सेक्टर 17 स्थित नगर निगम बिल्डिंग।

चंडीगढ़ नगर निगम की हाउस मीटिंग 27 मई को होनी है। इसमें भाजपा शासित निगम को विपक्ष पानी और गारबेज कलेक्शन चार्ज जैसे मुद्दों पर घेरने की तैयारी में है। शहर के कई हिस्सों में लोग पानी की किल्लत झेल रहे हैं। गांवों-कॉलोनियों में टैंकरों से पानी पहुंच रहा है। निगम का सप्ताह में सातों दिन 24 घंटे पानी सप्लाई का प्रोजेक्ट अधर में है। वहीं, शहर में व्यापारियों का 500 रुपए फिक्स गारबेज कलेक्शन चार्ज तय करने का मुद्दा भी गर्माया हुआ है। यह मुद्दा भी हाउस में उठेगा।

गौरतलब है कि नगर निगम ने गारबेज कलेक्शन चार्जेस में 5 प्रतिशत की बढ़ोतरी की है। मौजूदा समय में शहर के व्यापारियों से फ्लैट 500 रुपए गारबेज कलेक्शन चार्ज वसूला जा रहा है। व्यापारियों का कहना है कि हर बिजनेस में दुकान आदि से कचरा काम के हिसाब से कम और ज्यादा निकलता है। ऐसे में सभी के लिए एक ही रेट तय करना सही नहीं है।

मेयर ने समझा था मुद्दा, इसके बाद अब बदलाव

शहर की मेयर सर्बजीत कौर ने व्यापारियों की मांग को देखते हुए इसमें बदलाव की बात कही थी। इसके बाद हाउस में अब इस कलेक्शन चार्ज में बदलाव पर एजेंडा लाया जा रहा है। चंडीगढ़ यूथ कांग्रेस ने भी मेयर को इस संबंध में मांगपत्र दिया था। गौरतलब है कि होटल-रेस्टोरेंट आदि में कूड़ा ज्यादा मात्रा में निकलता है। वहीं सैलून आदि कुछ ऐसे व्यापार हैं जहां कम मात्रा में कूड़ा निकलता है। ऐसे में हर प्रकार के व्यापार पर एक ही चार्ज लगाने को यूथ कांग्रेस ने गलत बताया। चंडीगढ़ व्यापार मंडल भी निगम को इस संबंध में एक मांगपत्र दे चुका है।

जानकारी के मुताबिक शहर के व्यापार को नगर निगम ने तीन श्रेणियों में रखा है। इसमें प्रॉपर्टी के क्षेत्रफल के हिसाब से निकलने वाले सूखे और गीले कचरे के हिसाब से रेट तय किया जाएगा। चंडीगढ़ नगर निगम कमिश्नर अनिंदिता मित्रा ने कहा कि रेस्टोरेंट आदि में गीला कचरा काफी मात्रा में निकलता है। वहीं कुछ दुकानों में यह कचरा न के बराबर होता है और सूखा कचरा ही निकलता है। ऐसे में निगम ने चार्जेस में बदलाव का फैसला लिया है।

चंडीगढ़ में 1 अप्रैल से डोर-टु-डोर गारबेज कलेक्शन चार्जेस बढ़ गए हैं। शहर में गीला और सूखा कचरा डोर-टु-डोर इकट्ठा करने के लिए निगम की 400 के करीब गाड़ियां चल रही हैं। नगर निगम ने गारबेज कलेक्शन चार्जेस की नोटिफिकेशन 18 मार्च, 2019 में जारी की थी। ऐसे में अब हर कैटेगरी के गारबेज कलेक्शन चार्जेस बढ़ गए हैं।

वायरल ऑडियो पर आप को घेर सकती है भाजपा-कांग्रेस

हाल ही में आम आदमी पार्टी के एक पार्षद की एक वेंडर के साथ पैसों की लेनदेन की कथित ऑडियो क्लिप वायरल हुई थी। चंडीगढ़ महिला कांग्रेस अध्यक्ष दीपा अस्धिर दूबे और भाजपा नेता रामबीर भट्‌टी ने इसे लेकर आप को घेरा था। पार्षद के बहाने दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल को निशाना बनाया गया था। दुबे ने प्रशासक के सलाहकार धर्म पाल को लिखित शिकायत देते हुए आप पार्षद पर गरीबों से वसूली के आरोप लगाए थे। मामले में कार्रवाई की मांग की गई थी। इस मुद्दे को भाजपा और कांग्रेस हाउस के दौरान उठा सकते हैं। वहीं पार्षद अपने ऊपर लगे आरोपों को नकार चुका है।