पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बेटे ने घर से चुराए 17 लाख रुपए:पिता ने घर के रेनोवेशन के लिए रखे थे पैसे, नाबालिग को थी ऑनलाइन गेम्स खेलने की लत

चंडीगढ़7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मनीमाजरा थाने की फाइल फोटो। - Money Bhaskar
मनीमाजरा थाने की फाइल फोटो।

चंडीगढ़ के मनीमाजरा में एक नाबालिग ने घर से 17 लाख रुपए चुरा लिए। पिता ने चोरी का केस दर्ज करवा दिया। जांच शुरू करने पर पुलिस को पता चला कि पैसा गायब करने में मनीमाजरा निवासी फार्मासिस्ट कंपनी के संचालक शिकायतकर्ता का बेटा और भांजा भी शामिल हैं। मामले में दोनों सहित 4 नाबालिग और एक बालिग आरोपी बहलाना निवासी सूरज उर्फ विंटर (27) को गिरफ्तार किया गया।

मामले की शुरुआत में चंडीगढ़ पुलिस ने चोरी का मामला दर्ज किया था, लेकिन बाद में सच्चाई सामने आने के बाद धोखाधड़ी और आपराधिक साजिश रचने की धाराएं भी मामले में जोड़ दी। पुलिस ने यह मामला बीती 12 जनवरी को दर्ज किया था। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसआईटी बनाई गई थी जिसने केस को सुलझाया।

शिकायतकर्ता ने पुलिस को सूचना दी थी कि उनके घर में रेनोवेशन चल रहा था और उन्होंने अपने घर में 19 लाख रुपए रखे हुए थे। 12 जनवरी को जब उन्होंने बैड खोला तो पाया कि 17 लाख रुपए गायब थे। जांच में पता चला कि उसका बेटा ऑनलाइन गेम्स खेलने का शौकीन था। वहीं उसकी बहन का बेटा इन गेम्स में माहिर था।

भांजे ने ही उसके बेटे बेटे पर सूरज नामक आरोपी से ऑनलाइन गेम्स की आईडी खरीदने के लिए पैसा जुटाने का दबाव बनाया। जिसके बाद यह रकम गायब की गई। इस रकम से आरोपियों ने महंगे कपड़े, आईफोन आदि खरीदे। दो नाबालिग आरोपियों ने कुछ रकम अपने खातों में डाली और फ्लाइट से नई दिल्ली और वहां से आगे पटना गए।

सोशल मीडिया पर एक्टिव है आरोपी सूरज

सूरज ने पूछताछ में बताया कि वह ऑनलाइन गेम्स खेलने और सोशल मीडिया पर एक्टिव है। वह अन्य प्लेयर्स को आईडी खरीदने का लालच देता है। पुलिस ने मामले में 10,22,500 रुपए नकदी और तीन आईफोन बरामद किए हैं। नाबालिग आरोपियों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट में पेश करने के बाद उनके परिजनों के हवाले कर दिया गया। वहीं आरोपी सूरज को रविवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा।