पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विधानसभा में शराब की खाली बोतल मिलने का मामला:सचिवालय थानेदार के बयान पर दर्ज हुई FIR, कुर्ता-पाजामे वाले शख्स की पहचान में जुटी पुलिस

पटना6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विधानसभा परिसर में मंगलवार को मिली  थी शराब की खाली बोतलें। - Money Bhaskar
विधानसभा परिसर में मंगलवार को मिली थी शराब की खाली बोतलें।

बिहार विधानसभा कैंपस में मंगलवार को शराब की खाली बोतल और टेट्रा पैक मिला था। जिसके बाद राजनीतिक तौर पर बवाल मच गया था। विधानसभा के अंदर इस पर खूब हंगामा भी हुआ था। अब इस मामले में पटना पुलिस ने FIR दर्ज कर ली है। सचिवालय थानेदार चंद्रभूषण प्रसाद गुप्ता के बयान पर यह केस दर्ज किया गया है। पुलिस अब उस शख्स की पहचान में जुटी है जो कुर्ता-पैजामा पहन रखा था। साथ ही सबसे पहले शराब की खाली बोतलों को देखा था।

वहीं, कंप्लेन में इंस्पेक्टर ने लिखा है कि विधानसभा कैंपस में स्टाफ बाइक पार्किंग से दक्षिण और एनेक्सी भवन के पास कूड़ा रखा था। कूड़े में ही शराब की 3 खाली बोतल और 2 टेट्रा पैक मिला था।

राजेश कुमार बने इन्वेस्टिगेशन ऑफिसर
विधानसभा कैंपस में शराब की खाली बोतल और टेट्रा पैक मिलने की सूचना मिली थी। जिसके बाद पुलिस पहुंची। फिर बरामद बोतल और टेट्रा पैक को जब्त किया गया। कोर्ट से आदेश लेकर पुलिस अब इसे फोरेंसिक जांच के लिए भेजेगी। थानेदार के बयान पर अज्ञात लोगों के खिलाफ FIR नंबर दर्ज की गई है। सब इंस्पेक्टर राजेश कुमार को इस केस का इन्वेस्टिगेशन ऑफिसर बनाया गया है।

CCTV से मिल सकता है सबूत
पुलिस सूत्र बताते हैं कि बरामद शराब की बोतलों पर काफी मिट्‌टी जमी थी। उसे देख कर लग रहा था कि बोतल काफी पुरानी है। अब सवाल उठ रहा है कि क्या यह किसी की बदमाशी है? क्या साजिश के तहत किसी ने वहां शराब की बोतल को लाकर रख दिया या फिर सच में किसी ने वहां शराब पी और फिर बोतल को फेंका? इन सवालों का जवाब तलाशने के लिए पुलिस शराब के बोतल बरामद होने वाली जगह के आसपास में लगे CCTV कैमरों के फुटेज को खंगालेगी। इसके लिए जल्द ही विधानसभा अध्यक्ष से परमिशन लेगी। एनेक्सी भवन में भी कैमरा लगा है। उसके फुटेज को भी खंगाला जाएगा।

अब इस शख्स की है तलाश
इस केस में पुलिस को अब उस शख्स की तलाश है, जिसने सबसे पहले वहां शराब की खाली बोतलों को देखा था। पुलिस सूत्र के मुताबिक उस शख्स ने कुर्ता-पैजामा पहन रखा था। उसने ही हल्ला किया। फिर मीडिया को वहां तक ले गया। अब यह शख्स कौन है? उसकी पहचान क्या है? उस बारे में पुलिस को अब तक कुछ भी नहीं पता।

इस शख्स की पहचान के लिए भी पुलिस CCTV फुटेज की मदद लेगी। जब कल यह मामला सामने आया था, तब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार काफी नाराज हुए थे। इनकी नाराजगी सामने आते ही DGP एसके सिंघल से लेकर कई बड़े अधिकारी कूड़े की ढ़ेर पर शराब की बरामद बोतल को देखने पहुंच गए थे।