पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पटना DM के अधिकार में अब सारण-वैशाली की जमीन:सारण से जेपी सेतु, पहलेजा घाट की जमीन आई; वैशाली से मिला कंगन घाट इलाका

पटना7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पटना DM के क्षेत्राधिकार को बिहार सरकार की तरफ जारी एक अधिसूचना ने बढ़ा दिया है। सामान्य प्रशासन विभाग की तरफ से जारी की गई अधिसूचना के मुताबिक जेपी सेतु, पहलेजा घाट, कंगन घाट सहित सारण जिले की 3212 और वैशाली जिले की 331.5 एकड़ जमीन पटना जिले में आ जाएगी। इन क्षेत्रों की प्रशासनिक कमान पटना के DM के हाथ में होगी।

दो जिलों से पटना को मिली जमीन
बिहार के दो जिलों, सारण और वैशाली की कुल 3543.5 एकड़ जमीन अब पटना जिला प्रशासन के अंतर्गत आ गई है। सारण जिले के सोनपुर प्रखंड के दक्षिणवर्ती क्षेत्र के दियारा व नदी क्षेत्र की भूमि पटना जिले को स्थानांतरित हो गई है। सारण जिले की कुल 3212 एकड़ जमीन पटना जिला को मिली है। जेपी सेतु, पहलेजा घाट सहित नदी के उत्तर सोनपुर की ओर स्थित टोपोलैंड जमीन भी इसमें शामिल है।

सारण जिले के सोनपुर प्रखंड के दक्षिणवर्ती क्षेत्र के दियारा और नदी क्षेत्र की भूमि अब पटना जिले के अधीन है। सरकार द्वारा प्रशासनिक और भौगौलिक सुविधा के मद्देनजर सारण जिले की जमीन पटना जिले को स्थानांतरित की गई है। इसी तरह से वैशाली जिले की 331.5 एकड़ जमीन पटना जिले में आ गई है।

पटना DM के प्रशासनिक देखरेख में होंगे ये इलाके
राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग और मंत्रिमंडल सचिवालय की तरफ से जमीन हस्तांतरण का ये प्रस्ताव स्वीकृत हो चुका है। अब इसे लेकर सामान्य प्रशासन विभाग ने अधिसूचना जारी की है। इसके मुताबिक पटना जिला प्रशासन ही हस्तांतरित इलाकों में पुलिस-प्रशासन से जुड़ी व्यवस्था बहाल करेगा।