पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बिहार STF ने 2 कुख्यात को दबोचा:बंगाल में सोना लूटने वाला अमर सिंह राजगीर में गिरफ्तार, UP का सूरज देवघर से पकड़ाया

पटना7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सांकेतिक तस्वीर। - Money Bhaskar
सांकेतिक तस्वीर।

इंटर स्टेट सोना लूटने वाले दो बड़े कुख्यात अपराधी बिहार STF के हत्थे चढ़ गए हैं। अपराधी अमर सिंह उर्फ पहलवान बिहार में पटना जिले का रहने वाला है और उसने अपने साथी अपराधियों के साथ मिलकर पड़ोसी राज्य पश्चिम बंगाल में आतंक मचा रखा था। जबकि, दूसरा कुख्यात अपराधी सूरज कुमार उर्फ सूरज राम उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले के दरगेचक गांव का रहने वाला है।

इसने बिहार में सीवान जिले में आतंक मचा रखा था। दोनों ही अपराधियों के गैंग के निशाने पर बड़े ज्वेलरी शॉप होते थे। वहां ये अपने गैंग के साथ धावा बोलते थे और डकैती कर बड़े स्तर पर सोना और उससे बने ज्वेलरी को लूट कर फरार हो जाते थे।

घेराबंदी कर पकड़ा गया अमर सिंह
अमर सिंह पटना जिले में सालिमपुर थाना के तहत रुपस महाजी गांव का रहने वाला है। अपने साथी अपराधियों के साथ मिलकर इसने अब तक सोना लूट के कई बड़े वारदातों को अंजाम दिया है। डकैती और लूट के अधिकांश वारदतों को इसने पश्चिम बंगाल के अलग-अलग जगहों पर अंजाम दिया। जिसमें आसनसोल, चंदन नगर, वर्द्धमान, सिल्लीगुड़ी और हिरापुर शामिल हैं। पिछले साल 2021 में इसने आसनसोल और चंदन नगर में ज्वेलरी शॉप को लूटा था।

लंबे वक्त से इसकी तलाश बंगाल के साथ-साथ बिहार पुलिस को भी थी। अमर सिंह बार-बार अपना लोकेशन बदल रहा था। कुछ दिनों से इसने अपना ठिकाना राजगीर में बना रखा था। इस बारे में बिहार STF को इनपुट मिली और फिर उसके आधार पर ही कार्रवाई की गई। राजगीर में इसके ठिकाने की घेराबंदी कर इसे गिरफ्तार किया गया। लूट, डकैती, हत्या के प्रयास के साथ-साथ आर्म्स एक्ट की धाराओं के तहत इसके खिलाफ कई केस दर्ज हैं।

दिसंबर में ही सीवान और गोपालगंज में लूटा था सोना
उत्तर प्रदेश के देवरिया का रहने वाला सूरज कुमार उर्फ सूरज राम बिहार पुलिस के लिए चुनौती बना हुआ था। इसे सीवान के साथ-साथ गोपालगंज की पुलिस भी तलाश रही थी। पिछले महीने दिसंबर में इसने दो हफ्ते के अंदर इन दोनों जिलों में सोना लूट के दो बड़े कांडों को अंजाम दिया था। 10 दिसंबर को सीवान के रघुनाथपुर में तो 24 दिसंबर को गोपालगंज के उचकागांव में सोना लूटा था।

इससे पहले पिछले साल सीवान के जीरादेई में 1 और मैरवा में 3 महीने के अंदर सोना लूट के 3 बड़ी वारदातों को अंजाम दिया था। कुल मिलाकर 2021 में इस अपराधी ने सोना लूट के 6 बड़ी वारदातों को अंजाम दिया था। स्पेशल इनपुट पर बिहार STF की टीम ने झारखंड के देवघर में छापेमारी की और वहीं से इसे गिरफ्तार किया।