पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गोपालगंज में रंगदारी नहीं देने पर गोलीबारी:20 दिन पहले मांगी गई थी 10 लाख की फिरौती, गोलीबारी के विरोध में सड़क जाम

गोपालगंज7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गोलीबारी के बाद दुकान के पास आक्रोशित कारोबारियों को समझाती पुलिस। - Money Bhaskar
गोलीबारी के बाद दुकान के पास आक्रोशित कारोबारियों को समझाती पुलिस।

गोपालगंज जिले के बथुआ बाजार में रंगदारी नहीं देने पर अपराधियों ने गोलीबारी की वारदात को अंजाम दिया है। मंगलवार की सुबह मनोज साह की दुकान के पास बाइक पर सवार दो नकाबपोश अपराधियों ने गोलीबारी की। इसके बाद हथियार लहराते हुए फरार गए।

गोलीबारी से लोगों में अफरा-तफरी मच गई। वहीं, आक्रोशित दुकानदारों ने सड़क जाम कर आवागमन बाधित कर दिया। साथ ही पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। 14 तारीख को फोन पर 10 लाख की रंगदारी मनोज साह से मांगी गई थी।

अंजाम भुगतने की धमकी दी गई थी

फुलवरिया थाना क्षेत्र के काजीपुर गांव निवासी सुरेश साह के बेटे मनोज साह बथुआ बाजार पर थोक किराना दुकान चलाते हैं। थानाप्रभारी अशोक कुमार के मुताबिक 14 नवंबर को 10 लाख की रंगदारी मांगी गई थी। हालांकि, कारोबारी मनोज साह का कहना है कि 20 लाख की रंगदारी मांगी गई थी। फिरौती की रकम नहीं देने पर अंजाम भुगतने की धमकी दी गई थी। रंगदारी की मांग होने के बाद पीड़ित व्यवसायी ने स्थानीय थाना में लिखित आवेदन देकर न्याय की गुहार भी लगाई थी।

आवेदन के बावजूद पुलिस ने लिया एक्शन

थाने में आवेदन के बावजूद पुलिस आरोपी बदमाशों की पहचान नहीं कर सकी। गिरफ्तारी भी नहीं हुई। इसके बाद बदमाशों ने मंगलवार की सुबह दुकान पर कई राउंड फायरिंग कर दी। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच शुरू कर दी। लेकिन, कारोबारियों में काफी आक्रोष व्याप्त है। आक्रोशित व्यवसायियों ने मिरगंज भागी पट्टी समहूर मार्ग पर जाम लगा दिया।

पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। कारोबारियों के जाम के कारण पूरा बाजार बंद रहा, वहीं आवागमन भी पूरी तरह ठप रहा। करीब 5 घंटे तक आवागमन को बाधित किया गया। करीब 5 घंटे तक सड़क जाम रहने के बाद पुलिस जाम छुड़ाने में नाकाम रहे। आक्रोशित कारोबारी मौके पर डीएम- एसपी को बुलाने की मांग पर अड़े रहे।

खबरें और भी हैं...