पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60743.03-0.3 %
  • NIFTY18084.2-0.52 %
  • GOLD(MCX 10 GM)473800.04 %
  • SILVER(MCX 1 KG)646780.63 %

बीमार बच्चों के परिवार से ठगी, PMO पहुंचा मामला:दिल्ली के युवक ने पहले भेजी मुफ्त में दवाई, फिर जांच और कैंप के नाम पर की ठगी; थैलेसीमिया से पीड़ित हैं बच्चे

पटनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
थैलेसीमिया से पीड़ित हैं बच्चे। (फाइल फोटो) - Money Bhaskar
थैलेसीमिया से पीड़ित हैं बच्चे। (फाइल फोटो)

बिहार के थैलेसीमिया पीड़ित बच्चों के परिवार से दिल्ली के एक युवक ने ठगी की है। पहले मुफ्त दवा देकर अपनी जाल में फंसा लिया और फिर कैंप व जांच के नाम पर ठगी कर ली है। मुजफ्फरपुर, पूर्णया, भागलपुर और सासाराम से लेकर अन्य जिलों के बच्चों के साथ ठगी की घटना हुई है। अब मामला PMO और दिल्ली के CM तक पहुंचा है। पीड़ित परिजनों का कहना है कि जालसाजी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाए जिससे ऐसे मामलों पर अंकुश लगाया जा सके।

प्रधानमंत्री कार्यालय पहुंचा मामला

प्रधानमंत्री कार्यालय और दिल्ली के मुख्यमंत्री से की गई शिकायत में कहा गया है कि दिल्ली के रहने वाले प्रमोद नाम के व्यक्ति ने बिहार के साथ देश के अन्य प्रदेशों में थैलीसीमिया पीड़ित बच्चों के परिजनों से पैसा वसूला है। शिकायत में प्रमोद का मोबाइल नंबर भी दिया गया है जिससे वह पकड़ में आ जाए और उसपर कार्रवाई की जा सके। शिकायत में कहा है कि बिहार में दर्जनों बच्चों के परिवार वालों से कैंप और रजिस्ट्रेशन के साथ रेल टिकट के नाम पर पैसा वसूला है।

आरोप है कि प्रमोद ने बच्चो के गार्जियन से दवा, ब्लड फिल्टर के नाम पर भी खूब पैसा वसूला है। पीड़ित परिजनों में अधिकतर लोग काफी गरीब हैं। उन्होंने काफी उम्मीद के साथ पैसा दिया था कि उनका बच्चा ठीक हाे जाएगा। ठगी की घटना के बाद उनका विश्वास टूटा है। राकेश सिंह से प्रमोद ने रजिस्ट्रेशन के नाम पर 12 सौ रुपए ठगे हैं, ऐसे ही बिहार के दर्जनों पीड़ितों से पैसा वसूला है। अनिल, फूल, मृत्युंजय के साथ कई लोगों ने शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है।

परिजनों से पैसा नहीं देने की अपील

थैलेसीमिया पीड़ितों और ब्लड डोनेशन को लेकर काम करने वाले पटना के मां वैष्णो देवी सेवा समिति के मुकेश हिसारिया का कहना है कि थैलीसीमिया एक बेहद गंभीर डिस ओर्डर है, जिससे पीड़ित बच्चों को जीने के लिए प्रत्येक 15 दिनों में ब्लड चढ़ाना पड़ता है। इन बच्चो की वेदना और तकलीफ को शब्दों में व्यक्त नही किया जा सकता है। कुछ लोग इनकी परेशानी का नाजायज फायदा उठा रहे हैं। दिल्ली में प्रमोद नामक एक व्यक्ति ने लोगों से ठगी की है।

मोबाइल नंबर 96502 15393 से बिहार के बच्चों से दवा, फिल्टर, कैंप और रेल टिकट के नाम पर पैसा लेकर ठगी किया जा रहा है। मुकेश हिसारिया का कहना है कि बीमारी से पीड़ित बच्चों को ठीक कराने का झांसा देकर बच्चों के माता पिता से पैसा वसूलना जघन्य अपराध है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि किसी को भी इस तरह से पैसा नहीं दें। यह बीमारी को ठीक करने का झांसा देकर ठगी का काम करते हैं।

खबरें और भी हैं...