पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तेजस्वी की चुनावी सभा में क्या-क्या खास?:'चुपचाप लालटेन छाप' का नारा लगाकर वोट मांग रहे नेता प्रतिप्रक्ष; महंगाई, बेरोजगारी का उठा रहे मुद्दा

पटना10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तारापुर में चुनावी सभा के दौरान तेजस्वी यादव।

तारापुर की चुनावी सभाओं में तेजस्वी यादव जिन-जिन पंचायतों में गए वहां मोबाइल से उनका वीडियो बनाते, भाषण रिकॉर्डिंग करते युवा नजर आए। राजद ने अरूण साह को यहां से मैदान में उतारा है। तारापुर की सभाओं में कई खास बात दिखी है। तेजस्वी कह रहे हैं कि आप लोग जिताइएगा तो हम अपनी सरकार बनाएंगे। चुनावी सभा के दौरान तेजस्वी यादव चुपचाप लालटेन छाप का नारा लगाकर वोट मांग रहे हैं। यानी चुपचाप लालटेन (राजद का चुनाव चिन्ह) पर वोट डालना है। JDU विधायक मेवालाल चौधरी के कोरोना से निधन के बाद तारापुर विधानसभा सीट खाली हुई है।

मेवालाल को श्रद्धांजलि भी दे रहे
मेवालाल चौधरी सत्ता पक्ष के विधायक थे लेकिन तेजस्वी अपनी सभाओं में उनको श्रद्धांजलि दे रहे हैं। ट्वीट कर उन्होंने इस उपचुनाव की ठीकरा सरकार पर भी फोड़ा कि अगर बिहार का हेल्थ सिस्टम ठीक होता तो मेवालाल चौधरी की मौत कोरोना से नहीं होती और न उपचुनाव कराने की नौबत आती।

लालू प्रसाद की चर्चा हर चुनावी सभा में
लालू प्रसाद चुनाव प्रचार में स्वास्थ्य कारणों से नहीं आ पाए हैं, लेकिन सभाओं में तेजस्वी यादव लालू प्रसाद का नाम ले रहे हैं। वे बता रहे हैं कि लालू प्रसाद ने ही राजद की ओर से उम्मीदवार का चयन कर लड़ने के लिए कहा है। इसलिए वोट देकर विजयी बनाएं। उनकी सभाओं में लालू प्रसाद जिंदाबाद के नारे भी लग रहे हैं।

चुपचाप लालटेन छाप का नारा
तारापुर और कुशेश्वरस्थान की सीट राजद जीत जाती है तो सरकार बनाने की स्थिति में तो नहीं रहेगी लेकिन सत्ता के और थोड़ा पास जरूर पहुंच सकती है। तेजस्वी यादव को यह भी साबित करना है कि चुनाव के बाद सरकार की नीतियों की आलोचना का कितना असर जनता पर पड़ा है। महंगाई, भ्रष्टाचार, अपराध, बेरोजगारी जैसे सवालों को वे वोट के रुप में बदल पाते हैं कि नहीं। तेजस्वी यह कहकर भी वोट मांग रहे हैं कि पिछले चुनाव में NDA ने धांधली से सरकार बना ली, उन्हें मजा चखाइए। वे नारा लगा रहे हैं- चुपचाप लालटेन छाप।