पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57858.150.64 %
  • NIFTY17277.950.75 %
  • GOLD(MCX 10 GM)486870.08 %
  • SILVER(MCX 1 KG)63687-1.21 %

शपथ पत्र देकर चयनित अभ्यर्थी ले सकते हैं सर्टिफिकेट:निदेशक ने शिक्षक नियोजन के चयनित अभ्यर्थियों के सर्टिफिकेट वापस करने का DEO को दिया निर्देश

पटना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शिक्षक नियोजन में चयनित अभ्यर्थी जल्द से जल्द नियुक्ति पत्र देने की मांग को लेकर गोलबंद हैं। नियोजित शिक्षक संघ ने भी मांग की थी कि नियोजन इकाइयों ने 4-5 माह से सर्टिफिकेट भी रखा हुआ है। इसी को लेकर प्राथमिक शिक्षा के निदेशक अमरेन्द्र प्रसाद सिंह ने सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों और सभी जिला कार्यक्रम पदाधिकारियों को पत्र लिख कर चयनित अभ्यर्थियों के प्रमाण-पत्र वापस करने का निर्देश दिया है। हालांकि, सर्टिफिकेट लेने के लिए शपथ पत्र देना होगा।

पत्र में कही गई बातें
उन्होंने पत्र में कहा है कि शिक्षक नियोजन 2019-20 अंतर्गत प्रथम और द्वितीय चक्र में लगभग 6930 नियोजन इकाइयों में काउंसिलिंग और चयन की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। इस क्रम में लगभग 1250 नियोजन इकाइयों में काउंसिलिंग व चयन की प्रक्रिया शेष है। विभिन्न स्तर से चयनित अभ्यर्थियों के आवेदन प्राप्त हो रहे हैं। जिनमें कहा जा रहा है कि उनका चयन राज्य के अंदर अथवा राज्य के बाहर किसी अन्य संस्था या संस्थान में हो चुका है और वहां योगदान के लिए उन्हें मूल प्रमाण पत्रों की जरूरत है। उन्होंने कहा है कि विभागीय अधिसूचना 621, दिनांक 03 जुलाई 2021 में यह है कि काउंसिलिंग के क्रम में चयनित अभ्यर्थियों के प्रशैक्षणिक प्रमाण पत्र, जिसके आधार पर नियुक्ति का दावा किया गया है और शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) का मूल प्रमाण पत्र जमा कर लिया जाएगा।

शपथ-पथ में इन बातों का उल्लेख करना जरूरी
निदेशक ने इस पत्र में कहा है कि यह निर्णय लिया गया है कि चयनित अभ्यर्थियों से प्रथम श्रेणी के दंडाधिकारी के समक्ष लिए गए शपथ-पत्र के आधार पर उनके द्वारा दिया प्रमाण पत्र वापस किया जाए। शपथ-पत्र में इसका स्पष्ट उल्लेख किया जाए। उक्त प्रमाण पत्र के आधार पर वर्तमान प्रक्रियाधीन शिक्षक नियोजन 2019-20 के अंतर्गत किसी अन्य नियोजन इकाई में शिक्षक नियोजन के लिए दावा प्रस्तुत नहीं करेंगे।

खबरें और भी हैं...