पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57276.94-1 %
  • NIFTY17110.15-0.97 %
  • GOLD(MCX 10 GM)48348-0.7 %
  • SILVER(MCX 1 KG)62678-1.58 %

नियम का पालन:सरकारी विद्यालयों में नहीं हो रहा है नियम का पालन

समस्तीपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • चेतना सत्र : कुछेक गतिविधियों का हो रहा अनुपालन

प्रखंड के अधिकतर प्राथमिक एवं मध्य विद्यालयों में चेतना सत्र के सभी आयामों का अनुपालन नहीं किया जा रहा है। कुछेक गतिविधियों के सहारे ही इस की भरपाई की जा रही है। एक तरफ जहां शिक्षा विभाग विद्यालयों को चेतना सत्र के माध्यम से छात्र-छात्राओं के बौद्धिक, मानसिक व शारीरिक क्षमता के विकास का निर्देश देता है, वहीं दूसरी तरफ विद्यालय कर्मी केवल प्रार्थना गीत, अभियान गीत व राष्ट्र गीत के माध्यम से ही चेतना सत्र की भरपाई करते हैं। चेतना सत्र में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने की चाहत रखने वाले छात्र छात्राओं को प्रेरक प्रसंग, सामुदायिक समाचार, प्रश्नोत्तर आदि में भूमिका निभाने की ईच्छा अधूरी रह जाती है। यदि इस तरह की रवैया पुरे प्रखंड में कायम रहे तो बच्चों के बौद्धिक, मानसिक व शारीरिक क्षमता में विकास होने के बजाय विकास की रूपरेखा में कमी आती रहेगी।

यदि विद्यालय में अध्ययनरत छात्र-छात्राएं व अभिभावकों की मानें तो प्रखंड के ऐसे विद्यालय जो बीआरसी या प्रखंड कार्यालय के निकट संचालित हैं, उन्हीं में चेतना सत्र के आयामों के अनुपालन का प्रयास किया जाता है। शेष विद्यालयों में कुछेक गतिविधियों के सहारे ही इसकी भरपाई की जाती है। बताया जाता है कि विभाग के द्वारा सभी विद्यालयों में 9 बजे से 9:45 तक चेतना सत्र का अनुपालन किया जाना है। इन 45 मिनटों में के सभी विद्यालयों में प्रार्थना गीत, अभियान गीत, राष्ट्रगान, प्रेरक प्रसंग, समुदाय से जुड़े समाचार, प्रश्नोत्तर, उत्साहवर्द्धक गतिविधियां, शारीरिक शिक्षा का अनुपालन करने का निर्देश दिया जा चुका है। परंतु विद्यालयों में केवल प्रार्थना गीत, अभियान गीत एवं राष्ट्रगान के माध्यम से ही चेतना सत्र के अनुपालन का दावा किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...