पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मनमानी जारी:डीएम का आदेश भी ताक पर! बेरोक-टोक दिनभर संचालित हो रहे कोचिंग संस्थान

मुजफ्फरपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मिठनपुरा में दाेपहर एक बजे एक काेचिंग के बाहर छात्र-छात्राओं के खड़े वाहन। - Money Bhaskar
मिठनपुरा में दाेपहर एक बजे एक काेचिंग के बाहर छात्र-छात्राओं के खड़े वाहन।

शहर से गांवों तक अब भी बेरोक-टोक दिनभर कोचिंग संस्थानों का संचालन हो रहा है। वह भी पूरी क्षमता के साथ। ऐसा भी नहीं है कि कोचिंग में बच्चों की संख्या कम गई हाे या संचालन की टाइमिंग में बदलाव हुआ हाे। डीएम के आदेश के बावजूद कोचिंग संचालकों की मनमानी जारी है। शुक्रवार को भी सुबह 10 से शाम 4 बजे के बाद तक शहर के हर चौक-चौराहों पर स्थित कोचिंग में छात्रों की भीड़ लगी रही। मिठनपुरा, कलमबाग चौक, छाता चौक, अघोड़िया बाजार, ब्रह्मपुरा, माड़ीपुर, अखाड़ाघाट रोड, बनारस बैंक नाला रोड, पक्कीसराय, भगवानपुर और गोबरसही समेत अन्य इलाकों में संचालित कोचिंग इंस्टीट्यूट में साइकिलों भरमार देखी गई।

दूसरी ओर, अब तक जिला प्रशासन ने जब धावा दल ही नहीं बनाया, ताे छापेमारी कहां से हाेगी। एक कोचिंग संचालक ने बताया कि उन्होंने कोई लिखित सूचना या जानकारी नहीं मिली है। कोचिंग संचालन पर पाबंदी कहीं भी नहीं है। क्या केवल मुजफ्फरपुर के लिए ऐसा आदेश है? ज्ञात हाे कि जिला प्रशासन ने चार दिन पहले यह फरमान जारी किया था कि 9:30 से लेकर 4 बजे तक जिले में कोचिंग का संचालन नहीं होगा।

कारण बताया गया कि इस अवधि में ही सरकारी हाई स्कूल और प्लस टू विद्यालयों का संचालन होता है। इस कारण छात्रों की उपस्थिति प्रभावित होती है। ऐसा करने वालों पर कार्रवाई करने की बात हुई थी। लेकिन, अब सब कुछ हवा में उड़ता दिख रहा है।

अब तक आंकड़ा भी नहीं जुटा सका जिला शिक्षा विभाग
जिला शिक्षा विभाग अब तक जिले में संचालित होने वाले कुल कोचिंग का आंकड़ा तक नहीं जुटा सका है। पिछले महीने से कोचिंग की गणना करने का सिलसिला अब भी जारी है। सभी बीईओ मोहलत मांग रहे हैं और तारीख पर तारीख बीतती जा रही है।

डीएन हाई स्कूल में टिफिन टाइम में बच्चे फरार, कैंपस में खेलते दिखे बच्चे
डीएन हाई स्कूल में टिफिन टाइम में ही बच्चे फरार हो रहे हैं। शुक्रवार को भी कमोबेश यही स्थिति रही। हाफ टाइम में महज दर्जन भर से अधिक बच्चे ही कैंपस में खेलते हुए दिखाई पड़े। प्रभारी प्रधानाध्यापक ने बताया कि नौंवी में 359 स्टूडेंट्स का नामांकन है। 90 से अधिक स्टूडेंट्स उपस्थित मिले। बताया कि शुक्रवार की वजह से उपस्थिति कम है। नौंवी के एक छात्र ने बताया कि काफी कम बच्चे आते हैं। वहीं एक शिक्षक ने बताया कि उपस्थिति बढ़ाने के लिए चेतना सत्र में निर्देश दिया जाता है लेकिन फिर भी बच्चे नहीं आते।

मुखर्जी सेमिनरी में 9वीं में 289 नामांकन है। शुक्रवार को 147 स्टूडेंट्स उपस्थित थे। बताया गया कि रजिस्ट्रेशन की वजह से उपस्थिति कम है। बीबी कॉलेजिएट में 9वीं में 233 स्टूडेंट्स हैं। शुक्रवार को 105 स्टूडेंट्स पहुंचे थे। 11वीं में भी काफी कम उपस्थिति दर्ज की गई।

9:30 से 4 बजे तक जिले में कोचिंग संचालन पर रोक है। इस अवधि में अगर कहीं कोचिंग का संचालन होता है, तो कार्रवाई होगी। इसके लिए डीईओ को जिम्मेदारी दी गई है। -प्रणव कुमार, डीएम

खबरें और भी हैं...