पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

युवक ने अपने ही हाथों से काट डाला प्राइवेट पार्ट:पिता को नेपाल पुलिस ने फोन कर दी जानकारी, जीएमसीएच में चल रहा इलाज

बेतिया6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जीएमसीएच में भर्ती इमरान व साथ में पहुंचे परिजन। - Money Bhaskar
जीएमसीएच में भर्ती इमरान व साथ में पहुंचे परिजन।

बेतिया में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। एक युवक ने अपने ही हाथ से अपना प्राइवेट पार्ट काट लिया। युवक इरफान शेख है। वह साठी थाना क्षेत्र के काला बरवा गांव का निवासी हैं। हालांकि, उसने ऐसा क्यों किया इसके बारे में वह कुछ स्पष्ट नहीं बता पा रहा है। इस घटना के बाद क्षेत्र में चर्चा का विषय बन गया है। वहीं, गांव में चर्चा है कि या तो युवक किसी के साथ गलत करना चाहा होगा।

इसी के परिणाम स्वरूप ऐसा हुआ, या फिर लिंग परिवर्तन कराने के चक्कर में इस तरह का कारनामा कर डाला है। हालांकि, कुछ लोगों का यह भी मानना है कि नेपाल में ही शायद उसके साथ कोई घटना घटी है। क्योंकि अपने हाथ से अपना प्राइवेट पार्ट कैसे और क्यों काट सकता है। बहरहाल इरफान का इलाज चल रहा है। डॉक्टरों ने ऑपरेशन करने की बात कही है। लेकिन, इस अजीबोगरीब घटना से लोग सकते में हैं।

दुकान से पहले खरीदा ब्लेड, फिर काट दिया प्राइवेट पार्ट
इरफान नेपाल के पोखरा में मजदूरी करता था। दो दिन पहले अपने पिता इंतजार शेख को फोन कर बताया कि वह घर वापस लौट रहा है। वहीं, युवक ने बताया कि उसने दुकान से ब्लेड खरीदा और अपना प्राइवेट पार्ट काट डाला। पिता ने बताया कि नेपाल पुलिस ने फोन इरफान ने बताया कि उसके दिमाग में पता नहीं क्या आया कि उसने दुकान से ब्लेड खरीदी और अपने हाथ से ही अपना प्राइवेट पार्ट काट डाला। जबकि उसकी मां का कहना है कि इरफान की शादी भी करनी थी। लेकिन, 5-5 बेटी होने और पक्का घर नहीं होने के कारण इरफान की शादी नहीं कर पा रहे थे।

नेपाली पुलिस ने दी थी सूचना
पिता ने बताया कि जानकारी दी गई थी कि उसका बेटा घायल है। बीरगंज के नारायणी अस्पताल में इलाजरत है। इसके बाद परिजन उसको लेने के लिए नेपाल के बीरगंज पहुंचे। लेकिन, परिजनों के पहुंचने से पहले ही इरफान अस्पताल से भाग चुका था। इसके बाद परिजन उसकी तलाश करने लगे। इसी बीच भारत-नेपाल सीमा के पास इरफान मिल गया। इसे लेकर उसके पिता बेतिया पहुंचे और उसे जीएमसीएच में भर्ती कराया।

खबरें और भी हैं...