पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मधुबनी में सरकारी स्कूल में झंडोत्तोलन नहीं होने पर बवाल:महारानी कामसुंदरी उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय में स्वतंत्रता दिवस पर नहीं फहराया गया था तिरंगा, ग्रामीणों में आक्रोश

मधुबनीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मधुबनी जिला के राजनगर प्रखंड के मंगरौनी वार्ड नंबर 7 स्थित महारानी कामसुंदरी उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय में कल स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर हाई स्कूल में ध्वजारोहण नहीं होने को लेकर ग्रामीणों व छात्रों में आक्रोश देखा गया।

वही आज जब स्कूल के प्रभारी विद्यालय पहुंचे तो ग्रामीणों एवं छात्रों के द्वारा विद्यालय के प्रभारी को कल ध्वजारोहण को लेकर पूछने लगे। जिसके बाद ग्रामीण बार-बार झंडारोहण को लेकर उनसे सवाल और जवाब करने लगे। विद्यालय प्रभारी बार-बार ग्रामीणों और छात्रों को समझाने की कोशिश करने लगे की स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर झंडारोहण का कार्यक्रम महारानी काम सुंदरी उत्क्रमित मध्य विद्यालय में ही रखा गया था।

वहीं स्कूल के बच्चों का कहना है कि हमें इस बात की कोई जानकारी नहीं दी गई थी। जब हम लोग स्कूल पहुंचे तो पता चला कि इस स्कूल में झंडारोहण नहीं होना है जिसके बाद हम लोग अपने अपने घर चले गए। वही स्कूल के छात्र और छात्राओं का कहना है कि स्कूल की बदहाल स्थिति इस कदर है कि शिक्षक क्लास रूम में नहीं आते अपने ऑफिस में बैठकर ही समय बिता देते। वही स्कूल की साफ सफाई को लेकर छात्र वह छात्राएं शिक्षक के ऊपर आरोप लगा रहे हैं कि स्कूल की साफ सफाई हम लोगों के द्वारा ही करवाया जाता अगर मना करते तो यह लोग हमें मारने पीटने की धमकी देते।

महारानी कामसुंदरी उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय के प्रभारी बिंदेश्वर प्रसाद सिंह ने बताया कि हमारे तरफ से बच्चों को झंडारोहण को लेकर सूचना दे दी गई थी कि 15 अगस्त के दिन सुबह 8:00 बजे महारानी उत्क्रमित मध्य विद्यालय मे झंडारोहण किया जाएगा।

ग्रामीणों के द्वारा इस कदर आक्रोश विद्यालय के प्रभारी के ऊपर देखा गया की विद्यालय में बचे बूंदी के बर्तन को लेकर ग्रामीण आपस में बांटने के लिए सिर पर रखकर विद्यालय के प्रांगण में निकल गए।आक्रोशित ग्रामीणों विद्यालय के प्रभारी के ऊपर कार्रवाई की कर रहे मांग।

खबरें और भी हैं...