पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57696.46-1.31 %
  • NIFTY17196.7-1.18 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47361-0.07 %
  • SILVER(MCX 1 KG)606850.05 %

भागलपुर में इंटर के छात्र ने की खुदकुशी:साड़ी का फंदा बना पंखे से झूला छात्र, अंदर से बंद था दरवाजा; दुर्गंध भी फैली

भागलपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक की फाइल फोटो। - Money Bhaskar
मृतक की फाइल फोटो।

भागलपुर में इंटर के एक छात्र ने पंखे में साड़ी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर लिया। घटना तातारपुर थाना क्षेत्र के उर्दू बाजार स्थित प्रदीप गुप्ता लॉज का है। मृतक कहलगांव प्रखंड के कलगीगंज निवासी धर्मदेव तांती का पुत्र नीतीश कुमार (17) बताया जाता है। मृतक नीतीश कुमार टीएनबी कॉलेज के इंटर प्रथम वर्ष का छात्र था।

दरअसल, सोमवार की दोपहर में नीतीश के गांव का एक लड़का अपने घर से उस लॉज में आया तो नीतीश का कमरा अंदर से बंद पाया। लेकिन, इसके साथ ही तेज दुर्गंध भी हो रही थी। किसी आशंका से सशंकित होकर उक्त दोस्त ने लॉज के मालिक और नीतीश के पिता को इस बात की जानकारी दी।सूचना मिलते ही लॉज मालिक ने पुलिस को सूचना दी और दरवाजा खोला।दरवाजा खुलते ही नीतीश के शव को पंखे से लटका हुआ पाया।

दुर्गा पूजा का मेला देखकर लौटा था घर से

घटना के संबंध में कहलगांव से घटनास्थल पर पहुंचे मृतक के पिता धर्मदेव तांती ने बताया कि 16 तारीख (शनिवार) को वह दुर्गा पूजा खत्म होने के बाद सुबह-सुबह लोकल ट्रेन से भागलपुर आया था। फिर उन्होंने बताया कि उससे आखरी बार शनिवार की शाम करीब 7:00 बजे उनसे बात हुई थी।इस बातचीत में नीतीश ने पढ़ाई लिखाई और खाने पीने की बात करते हुए कहा कि अब पढ़ने जा रहा हूं। उन्होंने कहा कि कोई किसी तरह का विवाद नही था। वह बहुत खुश होकर घर से लौटा था पता नहीं क्यों ऐसा कदम उठाया।

कैसे मिली जानकारी

नीतीश के पिता धर्मदेव तांती ने बताया कि गाँव के ही रहने वाले एक लड़के ने लॉज पहुंचकर उनको फोन कर बताया कि नीतीश अपने कमरे का गेट नहीं खोल रहा है। साथ ही उसके रूम से बहुत ही बदबू आ रही है।यह सूचना मिलने के बाद वे वहां पहुँचे।

क्या कहती है पुलिस

घटना के सम्बन्ध में ततारपुर थाना अध्यक्ष सुधांशु शेखर ने बताया कि लाॅज के मालिक द्वारा फोन किया गया था।जिसके बाद हम लोग यहां पर पहुंचे। दरवाजा तोड़ कर देखा तो नीतीश ने अपने कमरे में लगे चौकी पर चौकी को चढ़ा कर बेडशीट के सहारे फंदे से झूल रहा था। आत्महत्या संभवत 16 अक्टूबर की शाम के बाद ही लगाई गई है, जिसके वजह से बॉडी इतना डिसपोज हो गया है।इसी वजह से शव से बदबू आ रहा है।उन्होंने बताया कि दो दिन से लटके होने की वजह से पूरे शरीर में फोड़ा निकल आया है।उन्होंने कहा कि प्रथम दृष्टया सुसाइड ही लग रहा है। परिजनों से पूछताछ के बाद भी अब तक कुछ सामने नहीं आया है। लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए नौलखा स्थित पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया गया।

उनके दोस्तों का कहना था कि नीतीश

पढ़ने में बहुत ही तेज था, इधर भी हाल में उसने पॉलिटेक्निक की परीक्षा पास किया था। आत्महत्या करने की क्या वजह है फिलहाल यह सभी के लिए पहेली बना हुआ है।फिलहाल पुलिस नीतीश के मोबाइल को खंगाल रही है।