पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57858.150.64 %
  • NIFTY17277.950.75 %
  • GOLD(MCX 10 GM)486870.08 %
  • SILVER(MCX 1 KG)63687-1.21 %

सेमिनार का आयोजन:धृतिमान मुखर्जी ने कहा - दुनिया का सबसे खतरनाक जीव है इंसान, हर साल 10 कराेड़ शार्क मार रहे

भागलपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सुंदरवन में आयोजित सेमिनार में पर्यावरणविदों की टीम। - Money Bhaskar
सुंदरवन में आयोजित सेमिनार में पर्यावरणविदों की टीम।

वन्य जीव संरक्षक वाइल्ड लाइफ फाेटाेग्राफर धृतिमान मुखर्जी ने बताया कि दुनिया का सबसे खतरनाक जीव इंसान है। हमलोग हर साल 10 करोड़ शार्क को मार देते हैं। क्याेंकि हमने जंगलाें में अपना घर बना लिया और अब चिल्लाने लगे हैं कि जानवर हम पर हमला कर रहे हैं। जबकि हमने खुद उनके आशियाने काे खत्म कर दिया, जिसका खामियाजा अब हमलाेगाें काे भुगतना पड़ रहा है।

वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफी से हमें वैज्ञानिक तथ्यों का पता चलता है जिसकी मदद से हम उनके लिए संरक्षण की नीति निर्धारित करते हैं। जबकि उनके द्वारा मनुष्य के साथ साल भर में मात्र 25-30 घटनाएं हाेती है जिसमें इंसानाें की जानें जाती हैं। जबकि इतने ही लाेग मुंबई जैसे शहर में हर दिन सड़क दुर्घटना में मारे जाते हैं।

यदि हम वन्य जीवों को सम्मान देंगें तो वो कभी खतरनाक नहीं होंगे पर इसके लिए हमे उनके बारे में भी पढ़ना और समझना हाेगा कि किसका क्या स्वभाव है। यह बातें उन्हाेंने सुंदरवन स्थित सेमिनार में शुक्रवार काे कहीं। पक्षी विशेषज्ञों ने इससे पूर्व कदवा दियारा समेत विभिन्न जगहों का दौरा कर पक्षियों को बचाने का लाेगाें से आह्वान किया।

वन्य प्राणी वैज्ञानिक डॉ. असद रहमानी, मंदार नेचर क्लब के संस्थापक सदस्य अरविन्द मिश्रा ने कदवा कोसी दियारा में गरुड़ और अन्य पक्षियों की तस्वीरें उतारीं। इसके बाद उनके भोजन इकठ्ठा करने की जगहों की तलाश में कुरसेला में कोसी नदी के चौर, कलबलिया धार और जगतपुर झील पहुंचे। जगतपुर झील में मोबाइल टावर के उपर बने लौह सारंग जैसे बड़े पक्षियाें के घोंसले में पक्षी और उनके बच्चे को देखना काफी अजीब घटना रही।

खबरें और भी हैं...