पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

VTR से भटक कर 100 KM दूर पहुंचा तेंदुआ:पुराना गांव के पास पहुंचा तेंदुआ, ट्रैकिंग में जुटी वन विभाग की टीम

बगहा (वाल्मिकीनगर)2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तेंदुए को देखकर इलाके में भय का माहौल है।

VTR से निकलकर आए दिन जंगली जानवर रिहायशी क्षेत्र में पहुंच रहे हैं। इस बार VTR से भटक कर एक तेंदुआ ठाकरा प्रखंड के हरपुर पंचायत के पुराना गांव के समीप पहुंच गया है। तेंदुए को देखकर लोगों के अंदर व्याप्त हो गया है। सूचना पर पहुंची वन विभाग की टीम तेंदुए की ट्रेकिंग करने में लगी हुई है। तेंदुए की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए एक निगरानी दल का गठन किया गया है। जिसकी लगातार मॉनिटरिंग की जा रही है।

हालांकि गन्ना के खेत होने के कारण ट्रैकिंग करने में काफी परेशानी हो रही है। लेकिन वन विभाग की टीम तेंदुए की ट्रैकिंग में जुटी हुई है ताकि कोई अनहोनी ना हो। वही ग्रामीणों का कहना है कि तेंदुए को देखकर गांव के लोग खेतों की तरफ नहीं जा रहे हैं। गेहूं बुवाई और गन्ने की कटाई का सीजन चल रहा है। ऐसे में खेतों की तरफ जाने से डर लगने लगा है।

वन विभाग की टीम तेंदुए की ट्रैकिंग में जुटी हुई है।
वन विभाग की टीम तेंदुए की ट्रैकिंग में जुटी हुई है।

VTR से 100 किलोमीटर दूर है यह प्रखंड

जिस जगह पर तेंदुआ दिखाई दिया है वह जगह VTR से तकरीबन सौ किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। ऐसे में तेंदुए का इतना दूर चले जाना विभाग के लिए परेशानी खड़ा कर दिया है। विभाग बिना तेंदुए को नुकसान पहुंचाए VTR में लाने का प्रयास कर रही है। वाल्मीकि टाइगर रिजर्व में तेंदुआ की संख्या 100 के पार पहुंच गई है। ऐसे में आए दिन तेंदुआ जंगल के आसपास के रिहायशी क्षेत्रों में दिखाई देते हैं। लेकिन इस बार एक तेंदुआ काफी लंबा दूरी तय कर लिया है।

तेंदुए को देखकर गांव के लोग खेतों की तरफ नहीं जा रहे हैं।
तेंदुए को देखकर गांव के लोग खेतों की तरफ नहीं जा रहे हैं।

लोगों को किया जा रहा है सावधान

वाल्मीकि टाइगर रिजर्व के बगहा परिक्षेत्र के रेंजर सुनील कुमार ने बताया कि VTR का खुला क्षेत्र होने की वजह से तेंदुआ या अन्य जानवर भोजन की तलाश में जंगल से कभी-कभी भटक जाते हैं। सूचना मिलने के साथ हैं वन कर्मियों की टीम की तैनाती कर दी गई है। वही खेतों की तरफ अकेले नहीं निकलने की लोगों से अपील की जा रही है। उन्होंने कहा कि लोग समूह के साथ ही खेतों में जाए। ताकि किस प्रकार की अनहोनी से बचा जा सके।