पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Market Watch
  • SENSEX52344.450.04 %
  • NIFTY15683.35-0.05 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47122-0.57 %
  • SILVER(MCX 1 KG)68675-1.23 %

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

12 से 15 साल उम्र के बच्चों का वैक्सीनेशन:अमेरिका में कल से बच्चों को वैक्सीन, भारत में देसी टीके के ट्रायल की सिफारिश

वॉशिंगटन/नई दिल्लीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भारत बायोटेक की वैक्सीन का 2 से 18 वर्ष के लोगों पर सीधे दूसरे और तीसरे चरण का परीक्षण, तीन से पांच महीने लगेंगे वैक्सीन आने में। - Money Bhaskar
भारत बायोटेक की वैक्सीन का 2 से 18 वर्ष के लोगों पर सीधे दूसरे और तीसरे चरण का परीक्षण, तीन से पांच महीने लगेंगे वैक्सीन आने में।

अमेरिका में 12 से 15 साल उम्र के बच्चों के कोरोना टीकाकरण की राह खुल गई है। अमेरिका के खाद्य और औषधि प्रशासन (एफडीए) ने फाइजर-बायोएनटेक की वैक्सीन के आपात इस्तेमाल को मंजूरी दे दी। अब 13 मई से बच्चों का टीकाकरण शुरू हो सकता है।

इधर, भारत में भी पहली बार 2 साल के बच्चों से लेकर से 18 साल के युवाओं पर वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रायल की सिफारिश कर दी गई है। केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (सीडीएससीओ) की विशेषज्ञ समिति ने यह सिफारिश की है। इसके बाद भारत के औषधि महानियंत्रक (डीसीजीआई) को इसकी मंजूरी देनी है।

सीडीएससीओ ने भारत बायोटेक के टीके के सीधे दूसरे और तीसरे चरण के परीक्षण की सिफारिश की है। अगर सब सामान्य रहा तो वैक्सीन आने में चार-पांच महीने लग सकते हैं। कंपनी पांच से 18 वर्ष के 525 लोगों पर क्लीनिकल ट्रायल करेगी। फिलहाल इसके लिए एमआईएमएस नागपुर, एम्स पटना और फेलिक्स हॉस्पिटल, नोएडा का चयन किया गया है।

परीक्षण के दौरान इस उम्र के लोगों को भी दो खुराक लगनी है। दूसरी खुराक पहली के 28वें दिन लगनी है। दूसरा खुराक के बाद कंपनी वैक्सीन के प्रभाव, साइड इफेक्ट्स के साथ-साथ दूसरे मापदंड पर रिपोर्ट तैयार करेगी। इसके बाद प्राथमिक और अंतिम रिपोर्ट नियामक को सौंपेगी। उधर, अमेरिका में 12 से 15 साल उम्र के बच्चों के टीकाकरण की मंजूरी को राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में बड़ा कदम बताया है। कनाडा ने भी फाइजर वैक्सीन को पिछले हफ्ते 12 वर्ष से अधिक उम्र के बच्चों के लिए मंजूरी दी है।

अमेरिका में 12 से 15 वर्ष आयु पर वैक्सीन 100% प्रभावी
मार्च में फाइजर और बायोएनटेक ने कहा था कि 12 से 15 वर्ष आयु समूह पर किए अंतिम चरण के ट्रायल में उनकी वैक्सीन 100% प्रभावी मिली है। यह परीक्षण 2,260 किशोरों पर किया गया। इसमें एंटीबॉडी का स्तर टीकाकरण करा चुके युवाओं की तुलना में अधिक पाया गया।

खबरें और भी हैं...