पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जानिए क्या होते हैं बॉट अकाउंट्स?:ये इंसानों की तरह काम कर सकते हैं, इनकी वजह से ही मस्क ने रोक दी ट्विटर डील

नई दिल्लीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

टेस्ला के CEO एलन मस्क ने ट्विटर खरीदने की डील रोक दी है। उन्होंने कहा है कि पहले वे ट्विटर पर फर्जी, यानी बॉट अकाउंट्स की जांच करवाएंगे। टि्वटर ने बॉट अकाउंट्स कुल यूजर के 5% से भी कम बताए हैं, लेकिन मस्क को लगता है कि इनकी संख्या 20% से 90% तक हो सकती है।

मस्क ने ट्विटर से उसके दावे का सबूत मिलने के बाद ही सौदा आगे बढ़ाने की बात कही है। दूसरी तरफ बताया जा रहा है कि मस्क 44 अरब डॉलर की इस डील से बाहर हो सकते हैं और ट्विटर का क्लोन बना सकते हैं। जानिए बॉट अकाउंट्स क्या होते हैं और इनकी क्या भूमिका होती है...

बॉट ऑटोमैटेड अकाउंट्स होते हैं, जो इंसान की तरह काम कर सकते हैं। जैसे ट्वीट करना, किसी यूजर काे फॉलो करना, लाइक करना और रीट्वीट करना। इस खूबी के चलते स्पैम बॉट से भ्रामक, हानिकारक, आक्रामक गतिविधि कराई जाती है।

स्पैम बॉट को इस तरह प्रोग्राम किया जाता है कि वे किसी प्रोडक्ट या सर्विस के लिए वेबसाइट पर ट्रैफिक लाने के लिए ट्वीट करते हैं। इनका इस्तेमाल गलत सूचना फैलाने और सियासी संदेशों को बढ़ावा देने के लिए भी किया जा सकता है।

वित्तीय घोटालों की लिंक भी फैला सकते हैं
2016 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में यह चिंता जताई गई थी कि रूसी बॉट्स ने डोनाल्ड ट्रम्प के पक्ष में माहौल बनाने में मदद की थी। बॉट वित्तीय घोटालों की लिंक भी फैला सकते हैं। अधिग्रहण के ऐलान के साथ ही मस्क ने कहा था कि स्पैम बॉट्स पर नकेल कसना प्राथमिकता होगी, जो क्रिप्टोकरंसी से जुड़े घोटालों को बढ़ावा देते हैं।

बॉट को ट्विटर की हां है
ट्विटर अपने प्लेटफॉर्म पर बॉट को अनुमति देता है। उसने ‘अच्छे’ बॉट्स के लिए @tinycarebot लेबल भी लॉन्च किया है। हालांकि, प्लेटफॉर्म स्पैम बॉट्स को अनुमति नहीं देता है। कंपनी के पास इससे निपटने के लिए पॉलिसी है। संदिग्ध गतिविधि वाले अकाउंट लॉक कर दिए जाते हैं। वापसी के लिए यूजर को फोन नंबर देने या रिकैप्चा हल करना पड़ सकता है। स्पैम अकाउंट्स सस्पेंड भी किए जाते हैं।

मस्क क्या करेंगे?
मस्क ने कहा है कि वे स्पैम बॉट्स को हटाकर और इंसानों को अथेंटिकेट कर ट्विटर को बेहतर बनाना चाहते हैं। वे रिकैप्चा जैसी सुरक्षा प्रणाली का उपयोग कर स्पैम बॉट्स पर नकेल कसेंगे। ट्विटर एक से अधिक अथेंटिकेट प्रक्रिया अपना सकता है।

दांव पर क्या
स्पैम बॉट्स और धोखाधड़ी वाली गतिविधियों से निराश यूजर टि्वटर से दूर हो सकते हैं। वहीं, स्पैम बॉट्स पर कार्रवाई होने से फर्जी अकाउंट्स साफ होंगे, तो ट्विटर के कुल यूजर कम हो जाएंगे।