पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • International
  • The Adventures Of Japanese Businessman Maezawa Returned From The International Space Station Said When We Reach Space, Passion Arises For The Earth, There Is Air, Smell And Weather Too.

स्पेस रिटर्न मेजावा से जानिए सफर का रोमांच:अंतरिक्ष पर धरती के लिए जुनून पैदा हो जाता है, यहां हवा, गंध और कई मौसम; वहां चाय बनाना भी चुनौती

टोक्यो4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
धरती पर लौटने के बाद बिजनेसमैन युसाकु मेजावा ने सफर से जुड़े अनुभव साझा किए। - Money Bhaskar
धरती पर लौटने के बाद बिजनेसमैन युसाकु मेजावा ने सफर से जुड़े अनुभव साझा किए।

‘अंतरिक्ष में पहुंचना रोलर कोस्टर की सवारी से तो कम ही डरावना था। इस सफर ने मुझे धरती के प्रति जुनूनी बना दिया है...’यह कहना है जापानी बिजनेसमैन युसाकु मेजावा का। वे हाल ही में 12 दिन इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन पर बिताकर लौटे हैं। 46 साल के मेजावा अगले साल चांद पर जाना चाहते हैं, इसके लिए उन्होंने मस्क की कंपनी स्पेसएक्स के साथ डील भी की है। धरती पर लौटने के बाद उन्होंने सफर से जुड़े अनुभव साझा किए, पढ़िए उन्हीं के शब्दों में...

अंतरिक्ष से पृथ्वी को देखना सुखद, तस्वीरों से 100 गुना सुंदर दिखता है नजारा

जब आप अंतरिक्ष जाते हैं तो धरती की अहमियत पता लगती है। इस यात्रा ने मुझे धरती के प्रति और आभारी बना दिया है। हमें इस बात को लेकर धन्यवाद देना चाहिए कि यहां पर हवा है, गंध है और कई मौसम भी हैं। स्पेस की जीरो ग्रेविटी में चाय बनाना, साफ-सुथरे कपड़ों की कमी जैसी चुनौतियां तो थी, पर मुझे कभी डर नहीं लगा। लॉन्च के वक्त का अनुभव शानदार था। ऐसा लगा स्टेशन से शिंकासेन (जापानी बुलेट ट्रेन) छूटी हो। सबकुछ इतनी शांति से हुआ कि इसका अहसास ही नहीं हुआ, जब मैंने खिड़की से झांककर देखा। अंतरिक्ष से पृथ्वी की खूबसूरती को देखना तस्वीरों की तुलना में 100 गुना ज्यादा सुंदर है। आप अंतरिक्ष में दुनिया के लीडर्स के साथ रहने के बारे में सोचना शुरू कर सकते हैं। बेशक, मैं इतना पावरफुल व्यक्ति नहीं हूं कि ऐसा कर सकूं। पर ऐसा संभव हो पाता है तो दुनिया रहने के लिए एक बेहतर जगह हो सकती है। मुझे लगता है स्पेस से जुड़े बिजनेस में काफी संभावनाएं हैं। हालांकि स्पेस की जीरो ग्रेविटी लाइफ से सामान्य जिंदगी में वापस लौटना अपेक्षा से ज्यादा मुश्किल साबित हुआ है। पहले मैं इससे उबरना चाहूंगा। स्पेस में सोना आसान नहीं है। सोते समय भी आप संघर्ष करते रहते हैं। आपके शरीर को पकड़े रखने के लिए कुछ नहीं है। मन में एक और एक्सप्लोरेशन हिलोरें ले रहा है। अगले साल चांद पर जाना चाहता हूं। इसके लिए स्पेसएक्स के मिशन से जुड़ गया हूं। चांद जैसी ऊंचाइयों के साथ गहराइयों में भी जाने का भी मेरा सपना है। मैं समंदर के नीचे मारियाना ट्रेंच जाने की योजना बना रहा हूं। यह सबसे गहराई वाली जगह है। शायद ही कभी इंसान वहां पर पहुंच पाए हैं। दरअसल मैं हमेशा चुनौतियों का सामना करते रहना चाहता हूं। ऐसा करने में मजा आता है। इसे लेकर आपकी आलोचना होगी, कई बार आप विफल होंगे। कुछ लोग डरकर पीछे हट जाते हैं। जहां तक मेरी बात है, मैं भी हमेशा सफल नहीं होता। सारे सपने सच भी नहीं होते। पर मैं कोशिश नहीं छोड़ता। मैं जापानी कलाकार की कलाकृति लेकर गया था। उसे आईएसएस पर ही छोड़कर आया हूं, ताकि मेरे बाद जाने वाले लोग भी इस खुशी को महसूस कर सकें।’
- युसाकु मेजावा

मेजावा जापानी अरबपति और फैशन मुगल हैं। उनकी नेटवर्थ 14 हजार करोड़ रुपए है। इस यात्रा पर हुआ 372 करोड़ का खर्च उन्होंने ही उठाया है।