पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

PHOTO STORY:थाईलैंड में बुजुर्ग ने पत्नी की डेड बॉडी के साथ 21 साल गुजारे, कहा- जल्द वापस आना

बैंकॉक5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

थाईलैंड में एक बुजुर्ग ने 21 साल अपनी दिवंगत पत्नी का पार्थिव शरीर घर में सहेज कर रखा। पत्नी से बेइंतहां प्यार करने वाले 72 साल के चार्न जनवाचकाल के मुताबिक, उन्हें उम्मीद थी कि उनकी पत्नी एक दिन जरूर बोलेगी।

लोगों के समझाने और स्थानीय प्रशासन के दखल के बाद पिछले हफ्ते चार्न ने पार्थिव शरीर को अंतिम विदाई दी। इस दौरान पत्नी के कॉफिन के करीब जाकर कहा- मुझे मालूम है कि तुम कुछ वक्त के लिए ही कहीं जा रही हो। मुझे उम्मीद है कि तुम बहुत जल्द अपने इस घर लौटोगी।

चार्न जनवाचकाल नाम के इस बुजुर्ग ने कई साल तक आसपास के लोगों को पता ही नहीं लगने दिया कि उनकी पत्नी का निधन हो चुका है।
चार्न जनवाचकाल नाम के इस बुजुर्ग ने कई साल तक आसपास के लोगों को पता ही नहीं लगने दिया कि उनकी पत्नी का निधन हो चुका है।
चार्न को पत्नी के अंतिम संस्कार के लिए बैंकॉक के एक फाउंडेशन ने तैयार किया। चार्न बैंकॉक के करीब बांग खेन जिले के रहने वाले हैं।
चार्न को पत्नी के अंतिम संस्कार के लिए बैंकॉक के एक फाउंडेशन ने तैयार किया। चार्न बैंकॉक के करीब बांग खेन जिले के रहने वाले हैं।
चार्न के घर में महज एक कमरा था और इस घर के करीब घना जंगल है। चार्न जहां सोते थे उसके करीब ही पत्नी के शव को सुरक्षित रखा था।
चार्न के घर में महज एक कमरा था और इस घर के करीब घना जंगल है। चार्न जहां सोते थे उसके करीब ही पत्नी के शव को सुरक्षित रखा था।
बुजुर्ग ने पत्नी का पार्थिव शरीर एक कॉफिन में रखा था। घर में बिजली नहीं है। इसके बावजूद वो 21 साल शव कैसे रख पाए? यह रहस्य ही है।
बुजुर्ग ने पत्नी का पार्थिव शरीर एक कॉफिन में रखा था। घर में बिजली नहीं है। इसके बावजूद वो 21 साल शव कैसे रख पाए? यह रहस्य ही है।
चार्न ने पत्नी का डेथ सर्टिफिकेट भी बनवाया था। इसलिए, उनके खिलाफ धोखाधड़ी या मौत छिपाने का मामला दर्ज नहीं किया गया है।
चार्न ने पत्नी का डेथ सर्टिफिकेट भी बनवाया था। इसलिए, उनके खिलाफ धोखाधड़ी या मौत छिपाने का मामला दर्ज नहीं किया गया है।
खबरें और भी हैं...