पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Market Watch
  • SENSEX52344.450.04 %
  • NIFTY15683.35-0.05 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47122-0.57 %
  • SILVER(MCX 1 KG)68675-1.23 %

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पाकिस्तान का नया यू टर्न:इमरान खान ने भारत से बातचीत के लिए फिर रखी कश्मीर में धारा 370 लागू करने की शर्त; कहा- सऊदी-UAE ने हमें दिवालिया होने से बचाया

इस्लामाबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सोमवार को रियाद में सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के साथ इमरान खान।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत से किसी औपचारिक बातचीत की संभावना से इनकार कर दिया है। मंगलवार को इमरान ने फोन के जरिए अवाम के कुछ सवालों के जवाब दिया। इस दौरान उन्होंने कहा- भारत जब तक 5 अगस्त 2019 को कश्मीर में उठाए गए कदमों को वापस नहीं लेता, तब तक उससे किसी तरह की बातचीत नहीं हो सकती। उन्होंने पश्चिमी देशों पर मानवाधिकार मामलों को लेकर दोहरा रवैया अपनाने का आरोप लगाया।

सोमवार को सऊदी अरब के तीन दिन के दौरे से लौटे इमरान का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसमें वो पाकिस्तानी कम्युनिटी को संबोधित कर रहे हैं। इस भाषण में उन्होंने कहा- हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि सऊदी अरब और UAE ने हमें हाल ही में दिवालिया होने से बचाया था।

विदेश मंत्री कुछ और कहते हैं
पिछले हफ्ते बुधवार को इमरान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने ‘समा न्यूज’ को दिए इंटरव्यू में कहा था- हम मानते हैं कि बीते दो साल से भारत और पाकिस्तान के बीच बैक चैनल बातचीत चल रही है, लेकिन ये औपचारिक बातचीत नहीं है। आर्टिकल 370 भारत का अंदरूनी मामला है। हमारी चिंता 35A को लेकर है।

कुरैशी के इस बयान के बाद पाकिस्तान में बवाल हो गया। तमाम मीडिया ने इसे कश्मीर पर यू टर्न और सौदेबाजी बताया। एक और मंत्री फवाद चौधरी ने कहा- 370 की वजह से ही 35A का जन्म हुआ था, फिर 370 भारत का अंदरूनी मामला कैसे हो सकता है। अब इमरान ने डैमेज कंट्रोल की कोशिश की है।

पाकिस्तान दिवालिया हो जाता
इमरान ने सऊदी दौरे पर पाकिस्तानी कम्युनिटी के प्रोग्राम के दौरान कहा था- इकोनॉमी के लिहाज से पाकिस्तान की हालत बेहद खराब थी। हम इसे सुधारने की कोशिश कर रहे हैं। आपको याद रखना होगा कि कुछ महीने पहले हम दिवालिया यानी डिफॉल्टर होने की कगार पर थे। तब सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात ने हमारी मदद की थी।

खबरें और भी हैं...